ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News विदेशYouTube पर देती थी पैरेंट्स को अच्छा बनने की सलाह, घर पर करती थी अपने बच्चों का शोषण

YouTube पर देती थी पैरेंट्स को अच्छा बनने की सलाह, घर पर करती थी अपने बच्चों का शोषण

अभियोजक एरिक क्लार्क ने बताया, 'बच्चों को नियमित रूप से भोजन, पानी, सोने के लिए बिस्तर और मनोरंजन की सभी चीजों से दूर रखा जाता था।' सुनवाई के दौरान रूबी फ्रैंक रोने लगी और बच्चों से माफी भी मांगी।

YouTube पर देती थी पैरेंट्स को अच्छा बनने की सलाह, घर पर करती थी अपने बच्चों का शोषण
Nisarg Dixitलाइव हिन्दुस्तान,न्यूयॉर्कWed, 21 Feb 2024 01:14 PM
ऐप पर पढ़ें

YouTube पर कभी पैरेंटिंग एडवाइस देने वाली एक पूर्व यूट्यूबर पर अपने ही बच्चों के शोषण की दोषी पाई गई है। इतना ही नहीं कोर्ट ने रूबी फ्रैंक को मंगलवार को 60 सालों की जेल की सजा भी सुनाई है। खबर है कि बीते साल दिसंबर में ही उसने अपने गुनाह कबूल कर लिए थे। कहा जा रहा है कि वह अपने बच्चों को लंबे समय तक भूखा और प्यासा रखती थी। उसके साथ बिजनेस पार्टनर जोडी हिल्डब्रांट को भी यही सजा सुनाई गई है।

फ्रैंक 6 बच्चों की मां है। जज रिचर्ड क्रिस्टोफर्सन ने उसे 1 से 15 सालों तक की लगातार चार सजाएं सुनाई हैं। दरअसल, यह मामला फ्रैंक के ही दो बच्चों के शोषण से जुड़ा हुआ है, जिनकी उम्र 9 और 11 वर्ष है। कथित तौर पर बच्चों को खाना नहीं दिया जाता था। साथ ही उन्हें अलग-थलग रखा जाता था।

अभियोजन पक्ष ने पीड़ित बच्चों के रहने की स्थिति की तुलना कंसन्ट्रेशन कैंप से की है। साथ ही फ्रैंक को समाज के लिए बड़ा खतरा भी बताया है। अभियोजक एरिक क्लार्क ने बताया, 'बच्चों को नियमित रूप से भोजन, पानी, सोने के लिए बिस्तर और मनोरंजन की सभी चीजों से दूर रखा जाता था।' सुनवाई के दौरान फ्रैंक रोने लगी और बच्चों से माफी भी मांगी।

उसने कहा, 'मुझे यह भरोसा दिला दिया गया था कि यह दुनिया दुष्ट जगह है, जिसमें ऐसे पुलिसकर्मी है जो सबकुछ नियंत्रित करते हैं, ऐसे अस्पताल हैं जो घायल करते हैं, ऐसी सरकारी एजेंसियां हैं जो ब्रेनवॉश करती हैं, ऐसे चर्च के लोग हैं जो झूठ बोलते हैं, ऐसे पति हैं जो सुरक्षा देने से इनकार करते हैं और ऐसे बच्चे हैं जिन्हें शोषण की जरूरत है।'

फ्रैंक और हिल्डरब्रैंट को अगस्त 2023 में गिरफ्तार किया गया था। उस दौरान एक 12 साल का बच्चा हिल्डरब्रैंट के घर की खिड़की से भाग निकला था और पड़ोसियों के पास भोजन और पानी के लिए पहुंच गया था।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें