ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News विदेशबाइडेन की उम्र बनी समस्या, विपक्षी नेता पूछ रहे- अब क्या 82 साल का होने पर भी लड़ेंगे अगला चुनाव?

बाइडेन की उम्र बनी समस्या, विपक्षी नेता पूछ रहे- अब क्या 82 साल का होने पर भी लड़ेंगे अगला चुनाव?

बाइडेन आगामी 20 नवंबर को 80 साल के हो जाएंगे। राष्ट्रपति की उम्र को लेकर उठते सवालों का जवाब देना मुश्किल हो गया है। पार्टी में फिलहाल बाइडेन की जगह लेने वाला दूसरा नेता नजर नहीं आ रहा।

बाइडेन की उम्र बनी समस्या, विपक्षी नेता पूछ रहे- अब क्या 82 साल का होने पर भी लड़ेंगे अगला चुनाव?
Niteesh Kumarलाइव हिन्दुस्तान,वॉशिंगटनTue, 12 Jul 2022 09:23 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

क्या जो बाइडेन राष्ट्रपति होने के लिहाज से ज्यादा उम्र के हैं? यह एक ऐसा सवाल है जिस पर रिपब्लिकन और दक्षिणपंथी आउटलेट्स में बहुत कुछ लिखा जा रहा है। वहीं, डेमोक्रेट्स और अधिकांश अमेरिकी मीडिया इस पर चर्चा करने से बच रहे हैं। यह तो तथ्य है कि जो बाइडेन अमेरिका के सबसे उम्रदराज राष्ट्रपति हैं। बाइडेन के मिडल ईस्ट टूर की तैयारियों के बीच बहस इस बात पर भी हो रही है कि क्या वह 2024 में भी राष्ट्रपति की रेस में शामिल होंगे?

बाइडेन आगामी 20 नवंबर को 80 साल के हो जाएंगे। डेमोक्रेट नेताओं से राष्ट्रपति की उम्र को लेकर उठते सवालों का जवाब देना मुश्किल हो गया है। समस्या यह भी है कि पार्टी में फिलहाल बाइडेन की जगह लेने वाला दूसरा नेता नजर नहीं आ रहा है।

द अटलांटिक ने हाल ही में अपने लेख में कहा कि राष्ट्रपति होने के लिए फिलहाल वह फिट हैं। हालांकि अगले चुनाव तक वह काफी उम्रदराज हो जाएंगे। हालांकि, इसमें दक्षिणपंथियों के उन दावों की तीखी आलोचना की गई जिसमें कहा गया कि बाइडेन डाइमेंशिया से पीड़ित हैं।

पार्टी के भीतर ही नहीं मिल रहा समर्थन
न्यू यॉर्क टाइम्स ने कुछ दिनों पहले बाइडेन की उम्र को लेकर पोल कराया था। इससे पता चला कि उनकी पार्टी के भीतर ही उन्हें समर्थन नहीं मिल रहा है। पोल के मुताबिक, 64 फीसदी डेमोक्रेटिक वोटर्स ने कहा कि 2024 में वो बाइडेन की जगह किसी और को राष्ट्रपति देखना चाहेंगे। इस तरह के मत के लिए राष्ट्रपति की उम्र को जिम्मेदार बताया गया।

रोनाल्ड रीगन 1989 में जब राष्ट्रपति पद से हटे तो उनकी उम्र 77 साल थी। बाइडेन की उम्र खुद उनके और पार्टी के लिए समस्या खड़ी कर रही है। फिलहाल ऐसा नहीं है कि बढ़ती उम्र के चलते वो अपनी जिम्मेदारियां न निभा पा रहे हों। अपने कार्यकाल के दौरान उन्होंने यूक्रेन युद्र, अर्थव्यवस्था और गन कल्चर को लेकर कई अहम फैसले लिए हैं।