DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ईरान से तनाव! पश्चिम एशिया में 1000 अतिरिक्त सैनिकों को तैनात अमेरिका

america

अमेरिका ने सोमवार को कहा कि ईरान के साथ बढ़ते तनाव को ध्यान में रखते हुए उसने पश्चिम एशिया में 1000 अतिरिक्त सैनिकों की तैनाती की अनुमति दे दी है। ईरान की हाल ही में दी उस धमकी के बाद अमेरिका का यह बयान आया है, जिसमें उसने कहा था कि परमाणु समझौते के तहत अगर विश्व ने अपनी प्रतिबद्धताएं पूरी नहीं की तो वह 10 दिन के भीतर अपनी यूरेनियम भंडार सीमा बढ़ा देगा।

कार्यवाहक रक्षा मंत्री पैट्रिक शनाहान ने एक बयान में कहा कि सैनिकों को ''पश्चिम एशिया में हवाई, नौसैनिक, और जमीनी खतरों से निपटने के लिए भेजा जा रहा है।" शनाहान ने कहा, ''हालिया ईरानी हमलों ने ईरानी बलों और उसके इशारों पर काम कर रहे समूहों के शत्रुतापूर्ण व्यवहार पर प्राप्त खुफिया जानकारी की पुष्टि की है, जो पूरे क्षेत्र में अमेरिकी कर्मियों और उनके हितों के लिये खतरा हैं।"

उन्होंने कहा, ''अमेरिका ईरान के साथ कोई टकराव नहीं चाहता।" उन्होंने कहा, ''तैनाती का लक्ष्य पूरे क्षेत्र में काम करने वाले हमारे सैन्य कर्मियों की सुरक्षा एवं कल्याण सुनिश्चित करना और हमारे राष्ट्रीय हितों की रक्षा करना है।"

अमेरिका ने पिछले सप्ताह ईरान को ओमान की खाड़ी में दो टैंकर हमलों के लिए जिम्मेदार ठहराया था। हालांकि तेहरान ने इसे ''निराधार करार देते हुए खारिज कर दिया था। अमेरिका के ईरान के साथ बहुराष्ट्रीय परमाणु समझौते से बाहर होने के बाद से ही दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ा हुआ है। इस बीच, चीन ने अमेरिका को चेताया कि ऐसा करने के गंभीर परिणाम होंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:US deploys 1000 more troops to Middle East amid Iran tensions