DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीजिंग पर बरसे डोनाल्ड ट्रंप, बोले-हमें चीन की जरूरत नहीं

 us-china trade war  donald trump said we do not need china


अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बीजिंग पर हमला बोलते हुए चीन की ओर से नए शुल्क लगाने की योजना पर त्वारित जवाबी कार्रवाई का संकल्प लिया। ट्रंप ने अमेरिकी कंपनियों से चीन छोड़ने को भी कहा।

ट्रंप ने कहा कि हमें चीन की जरूरत नहीं है। अगर ईमानदारी से कहूं तो हम उनके बिना बहुत बेहतर होंगे।  व्यापार युद्ध पहले ही अमेरिका की प्रगति की रफ्तार कम कर चुका है और वैश्विक अर्थव्यवस्था को कमज़ोर किया है और शेयर बाजारों की भी हालात खराब की है।

ट्रंप ने कहा ''हमारे देश को इतने सालों में चीन में खरबों डॉलरों का नुकसान हुआ है। उन्होंने एक साल में अरबों डॉलर की कीमत पर हमारी बौद्धिक संपदा को चुराया है और वे यह जारी रखना चाहते हैं, लेकिन मैं यह नहीं होने दूंगा।

उन्होंने कहा कि हमारी महान अमेरिकी कंपनियों को आदेश दिया जाता है कि वे चीन का विकल्प देखना शुरू कर दें और वे वापस देश आने का भी विकल्प रखें तथा अमेरिका में अपने उत्पाद बनाएं। इससे पहले चीन ने शुक्रवार को घोषणा की कि वह अमेरिका से आयात किए जाने वाले 75 अरब डॉलर के उत्पादों पर दस प्रतिशत का जवाबी शुल्क लगाएगा।

अमेरिका से आयातित 75 अरब डॉलर के उत्पादों पर 10 प्रतिशत का अतिरिक्त शुल्क लगाएगा चीन

चीन ने शुक्रवार को कहा कि वह अमेरिका से आयात किए जाने वाले 75 अरब डॉलर के उत्पादों पर दस प्रतिशत का जवाबी शुल्क लगाएगा। ट्रंप ने चीन से आयातित 300 अरब डॉलर की वस्तुओं पर नया शुल्क लगाने की धमकी दी थी। इसी के जवाब में चीन ने यह कदम उठाया है।  इस कदम के बाद दुनिया की दो सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के बीच व्यापार युद्ध बढ़ाने की आशंका है। 

चीन के सीमा शुल्क आयोग ने शुक्रवार को कहा कि चीन अमेरिका के 75 अरब डॉलर के आयात पर अतिरिक्त शुल्क लगाएगा। यह अमेरिका की ओर से चीन की वस्तुओं पर हाल में घोषित किए गए शुल्क के जवाब में है। एक अन्य घोषणा में कहा गया है कि चीन, अमेरिका में बने वाहनों और कलपुर्जों पर 25 प्रतिशत या 5 प्रतिशत का अतिरिक्त शुल्क लागू करेगा। यह शुल्क 15 दिसंबर को दोपहर 12 बजकर एक मिनट पर लागू होगा। 

अमेरिकी सरकार ने 15 अगस्त को घोषणा की थी कि वह 300 अरब डॉलर के चीनी उत्पादों पर 10 प्रतिशत का अतिरिक्त शुल्क लगाएगा। यह शुल्क दो चरणों एक सितंबर और 15 दिसंबर को लागू होंगे।  चीन की ओर से अमेरिकी उत्पादों पर शुल्क लगाने की घोषणा के बाद अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिकी कंपनियों से चीन में अपने बनाने के " विकल्प " खोजने के लिए कहा है। 

ट्रंप ने ट्वीट में कहा कि वह "अमेरिकी कंपनियों को अपनी उत्पादन नीतियों में बदलाव करने की आदेश दिया है।"  ट्रंप ने कहा, "चीन ने अमेरिका से सालों साल भारी मात्रा में पैसे बनाया और अब इस रोकना ही होगा।"

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:US-China trade war: Donald Trump said we do not need China