ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News विदेशप्रेमिका से सीक्रेट मुलाकात करने रूस पहुंचा शादीशुदा अमेरिकी सैनिक, चोरी के इल्जाम में गिरफ्तार

प्रेमिका से सीक्रेट मुलाकात करने रूस पहुंचा शादीशुदा अमेरिकी सैनिक, चोरी के इल्जाम में गिरफ्तार

अमेरिका और रूस के बीच बढ़ रही तल्खी के बीच एक अमेरिकी सैनिक रूस में गिरफ्तार हुआ है। अमेरिकी अधिकारियों का कहना है कि वह अपनी प्रेमिका से मिलने गुपचुप रूस पहुंचा था और पकड़ा गया।

प्रेमिका से सीक्रेट मुलाकात करने रूस पहुंचा शादीशुदा अमेरिकी सैनिक, चोरी के इल्जाम में गिरफ्तार
Gaurav Kalaएपी,वाशिंगटनTue, 07 May 2024 12:08 PM
ऐप पर पढ़ें

यूक्रेन में जब से रूसी सेना ने हमला किया है, तब से अमेरिका समेत कई पश्चिमी देशों की व्लादिमीर पुतिन से शत्रुता बढ़ गई है। अमेरिका ने रूस पर कई प्रतिबंध लगाए हैं। अमेरिका और रूस के बीच लगातार बढ़ रही तल्खी के बीच एक अमेरिकी सैनिक रूस में गिरफ्तार हुआ है। अमेरिकी अधिकारियों का कहना है कि वह अपनी प्रेमिका से मिलने गुपचुप रूस पहुंचा था और पकड़ा गया। उस पर चोरी का इल्जाम लगा है। वह पहले से शादीशुदा बताया जा रहा है।

अमेरिकी अधिकारियों के अनुसार, रूस के बंदरगाह शहर व्लादिवोस्तोक में अपनी प्रेमिका से मिलने गए अमेरिकी सैनिक गॉर्डन ब्लैक को चोरी करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया और वह अभी भी रूसी सेना के हिरासत में है। अमेरिकी अधिकारियों आगे बताया कि 34 वर्षीय ब्लैक दक्षिण कोरिया में तैनात थे और टेक्सास के फोर्ट कैवाज़ोस में अपने घर लौटने वाले थे। इसके बजाय, ब्लैक अपनी प्रेमिका से मिलने के लिए रूस चले गए। ब्लैक की गिरफ़्तारी ने रूस के साथ अमेरिकी संबंधों के बीच तनाव बढ़ा दिया है। 

सेना की प्रवक्ता सिंथिया स्मिथ ने पुष्टि की कि रूस में पकड़े गए सैनिक पर न सिर्फ चोरी, प्रेमिका से दुर्व्यवहार के भी आरोप लगे हैं। उन्होंने कहा कि रूस ने अमेरिका को सैनिक की गिरफ्तारी जानकारी दे दी है और यह बात उसके परिवारवालों को भी बता दी गई है। बताया जा रहा है कि सैनिक पहले से शादीशुदा है।

स्मिथ ने कहा, "अमेरिकी विदेश विभाग रूस में सैनिक से लगातार संपर्क में है और उसकी हर संभव मदद कर रहा है।" 

अधिकारियों के अनुसार, ब्लैक जिस रूसी महिला से मिलने पहुंचा था, वह दक्षिण कोरिया में रहती थी और पिछली बार वह और ब्लैक किसी प्रकार के घरेलू विवाद में पड़ गए थे। इसके बाद उन्होंने दक्षिण कोरिया छोड़ दिया। यह स्पष्ट नहीं है कि क्या महिला को दक्षिण कोरिया छोड़ने के लिए मजबूर किया गया था या इस मामले में कोरियाई अधिकारियों की क्या भूमिका थी? हम इस मामले में जांच कर रहे हैं।