ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ विदेश यूक्रेन के शहरों को खाली कराने के लिए सीरिया वाला फॉर्मूला इस्तेमाल कर रहा रूस, ब्रिटेन की खूफिया रिपोर्ट में दावा

यूक्रेन के शहरों को खाली कराने के लिए सीरिया वाला फॉर्मूला इस्तेमाल कर रहा रूस, ब्रिटेन की खूफिया रिपोर्ट में दावा

ब्रिटेन के रक्षा मंत्रालय की खूफिया रिपोर्ट के मुताबिक रूस यूक्रेन के शहरी इलाकों को खाली कराने के लिए सीरिया वाली नीति अपना रहा है। गौरतलब है कि रूस-यूक्रेन युद्ध के 100 दिन से ज्यादा हो चुके हैं।

 यूक्रेन के शहरों को खाली कराने के लिए सीरिया वाला फॉर्मूला इस्तेमाल कर रहा रूस, ब्रिटेन की खूफिया रिपोर्ट में दावा
Atul Guptaलाइव हिंदुस्तान,नई दिल्लीSun, 05 Jun 2022 07:25 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें


ब्रिटेन के रक्षा मंत्रालय ने रविवार को बताया कि यूक्रेनी सेना ने पिछले 24 घंटों के भीतर पूर्वी यूक्रेन के सिवेरोडोनेट्स्क शहर में रूसी सेना के खिलाफ जवाबी कार्रवाई की है। रिपोर्ट के मुताबिक यूक्रेन की सेना ने रूसी सेना को इलाके से पीछे हटने पर मजबूर कर दिया है। यूक्रेन में 100 से ज्यादा जारी युद्ध को लेकर जारी खूफिया रिपोर्ट में कहा गया है कि मॉस्को ने पूर्वी यूक्रेन में स्व-घोषित लुहान्स्क पीपुल्स रिपब्लिक के लड़ाकों को तैनात किया है। बताया जा रहा है कि ये लड़ाके पूरी तरह प्रशिक्षित नहीं है और इनके पास अच्छे किस्म के हथियार भी नहीं है। इसी कारण रूसी सैनिकों ने इन्हें खदेड़ दिया है।

ब्रिटेन के रक्षा मंत्रालय की खूफिया रिपोर्ट के मुताबिक शहरी इलाकों को खाली कराने के लिए फर्जी सैनिकों का पैदल मार्च निकालना रूस की पुरानी रणनीति है जो उसने सीरिया में भी इस्तेमाल की थी। ब्रिटेन के मुताबिक रूस ने सीरिया के शहरी इलाकों को खाली कराने के लिए वी कैटेगिरी के जवानों को लगाया था।

रिपोर्ट के मुताबिक रूस को इस युद्ध में भारी नुकसान उठाना पड़ा है। उसके कई सैन्य उपकरण नष्ट हो गए हैं। कहा जा रहा है कि रूस ने सोचा नहीं था कि यूक्रेन के राष्ट्रपति ज़ेलेंस्की की वर्तमान सरकार को हटाना इतना मुश्किल होगा। रिपोर्ट कहती है कि यूक्रेन ने बहादुरी से अबतक रूस के खिलाफ लड़ाई लड़ी है। ये भी कहा जा रहा है कि अब रूसी सेना कीव से पीछे हट रही है। जानकारी के मुताबिक रूस अब यूक्रेन के पूर्वी क्षेत्रों पर अपना फोकस बढ़ा रहा है। ब्रिटेन के रक्षा मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा कि मॉस्को अब डोनबास क्षेत्र में तेजी से कब्जा कर रहा है जिसमें जिसमें डोनेट्स्क और लुहान्स्क के इलाके भी शामिल हैं।
 

epaper