अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ट्रंप ने अमेरिकी मीडिया को देश का सबसे बड़ा दुश्मन बताया

डोनाल्ड ट्रंप

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने आज कहा कि फर्जी खबर अमेरिका की सबसे बड़ी दुश्मन हैं। ट्रंप ने उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन के साथ अपनी ऐतिहासिक शिखर वार्ता में हुए समझौते को कमतर करने का प्रयास करने के लिए कुछ अमेरिकी मीडिया घरानों पर निशाना साधा।

ट्रंप ने किम के साथ गत मंगलवार को सिंगापुर में मुलाकात की थी। दोनों नेताओं ने वहां अस्पष्ट शब्दों वाले एक समझौते पर हस्ताक्षर किये जिसकी देश में कई ने आलोचना की है। ट्रंप ने वाशिंगटन लौटने के बाद घोषणा की कि उत्तर कोरिया अब अमेरिका के लिए कोई परमाणु खतरा नहीं है।

आलोचकों को मानना है कि उत्तर कोरियाई नेता से मुलाकात करने वाले पहले अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने किम की प्रशंसा की और युवा तानाशाह नेता को वैधता प्रदान की। 

72 वर्षीय ट्रंप ने सिंगापुर में एक लंबे संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करने के बाद मीडिया पर हमला बोला। उन्होंने नाराज होकर किये गए अपने ट्वीट में एनबीसी और सीएनएन का उल्लेख किया।

ट्रंप ने लिखा कि फर्जी खबरें विशेष तौर पर एनबीसी और सीएनएन को देखना कितना हास्यास्पद होता है। उन्होंने कहा कि 500 दिन पहले वे इस समझौते के लिए इस तरह गुहार लगा रहे होते मानो युद्ध छिड़ने वाला है। हमारे देश की सबसे बड़ी दुश्मन फर्जी खबरें हैं जिन्हें मूर्ख आसानी से गढ़ लेते हैं।

ट्रंप ने यह ट्वीट सीएनएन के व्हाइट हाउस के प्रमुख संवाददाता जिम अकोस्टा पर अपने अधिकारियों द्वारा निशाना साधने के बाद किया। ट्रंप के अधिकारियों ने अकोस्टा पर निशाना सिंगापुर में शिखर वार्ता में समझौते पर हस्ताक्षर करने के दौरान किम और ट्रंप से सवाल पूछने को लेकर साधा था।

सेक्स रैकेट चलाने वाले तेलुगू फिल्म प्रोड्यूसर व पत्नी US में गिरफ्तार

पाकिस्तान के सामने कंगाल होने के हालात, गिरती जा रही पाक रुपये की कीमत

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Trump calls the American media biggest enemy of the country