द न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट में दावा- डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिका से ज्यादा भारत में जमा कराए टैक्स

यशवंत राज. एचटी,वाशिंगटन। Last Modified: Mon, Sep 28 2020. 10:51 IST
offline

'द न्यूयॉर्क टाइम्स' की एक रिपोर्ट के अनुसार, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने 2017 में सिर्फ 750 डॉलर आयकर का भुगतान किया। इससे कहीं अधिक उन्होंने भारत में कुल 145,400 डॉलर करों के तौर पर भुगतान किया। ट्रंप के व्यवसायों ने उसी वर्ष पनामा में 15,598 डॉलर और फिलीपींस में 156,824 डॉलर टैक्स का भुगतान किया। 

रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले वर्षों में ट्रंप ने जो भुगतान किया, उससे कहीं अधिक था। उन्होंने पिछले 15 वर्षों में 10 साल में कोई भी आयकर का भुगतान नहीं किया था। उन्होंने अपनी कमाई की तुलना में नुकसान अधिक दिखाया था।  

'द न्यूयॉर्क टाइम्स' की रिपोर्ट में जो व्यापक रूप से ध्यान आकर्षित करते दिखाई दिए, वे थे उनके बेटे के बिजनेस के टैक्स राइट-ऑफ जैसे भोजन और उसके विमान का खर्चा।  उनके बालों को स्टाइल कराने के लिए 70,000 डॉलर से अधिक के भुगतान को दर्शाया गया है। रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि एक साथ ट्रंप के 9 संस्थाओं ने कम से कम 95,464 डॉलर इवानका ट्रंप के पसंदीदा बाल और मेकअप कलाकार को भुगतान किया है। 

टाइम्स ने भारत में ट्रंप व्यवसायों के कर भुगतानों का हवाला देते हुए अमेरिका में कम टैक्स देने के लिए अपने वित्तीय जानकारी में हेरफेर की तरफ ध्यान आकृष्ट कराया है। उन्होंने अपने कर रिटर्न को जारी करने से इनकार करते हुए कहा कि अभी इसकी ऑडिट हो रही है। 

रिपोर्ट में भारत में करों का कोई विवरण नहीं दिया गया है। पिछली मीडिया रिपोर्टों के अनुसार ट्रंप संगठन के सबसे बड़े विदेशी परिचालन भारत में हैं। अपने कार्यभार संभालने के पहले दो वर्षों में भारत के व्यवसायों ने उन्हें 2.3 मिलियन डॉलर की कमाई हुई। द टाइम्स ने कहा कि रिटर्न के आधार पर इसे एक्सेस किया गया था।

उनके विदेशी परिचालनों से 73 मिलियन डॉलर की कमाई का बड़ा हिस्सा स्कॉटलैंड और आयरलैंड में उनकी संपत्ति, फिलीपींस से 3 मिलियन डॉलर और तुर्की से एक मिलियन डॉलर से आया था।

ट्रंप ऑर्गनाइजेशन के एक वकील एलन गार्टन ने द टाइम्स की रिपोर्ट को गलत बताया। उन्होंने कहा कि यह फर्जी खबर है। राष्ट्रपति ट्रंप ने भी व्हाइट हाउस में एक संवाददाता सम्मेलन में संवाददाताओं से कहा कि यह पूरी तरह से फर्जी खबर है।  उन्होंने कहा कि वास्तव में मैंने कर का भुगतान किया। जल्द ही आप हमारा रिटर्न देखेंगे। 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं? हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें।
हिन्दुस्तान मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें