DA Image
23 अक्तूबर, 2020|4:28|IST

अगली स्टोरी

कैसे और कहां से आया कोरोना वयारस? 5 और 6 अक्टूबर को पहला अपडेट देगा WHO का स्वतंत्र पैनल

in this file photo  tedros adhanom  director general of the world health organization shakes hands w

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के महानिदेशक टेड्रोस एडहोम की ओर से कोविड-19 को लेकर जुलाई में बनाया गया स्वतंत्र पैनल 5-6 अक्टूबर को होने वाली वर्ल्ड एग्जीक्यूटिव बॉडी की मीटिंग में पहला अपडेट देगा। बता दें कि डब्ल्यूएचओ प्रमुख और बीजिंग को चीन के वुहान में उत्पन्न होने वाले इस संक्रामक वायरस से निपटने को लेकर हुई आलोचना के बाद विश्व स्वास्थ्य सभा में इस पैनल को बनाया गया। यह भी आलोचना की गई थी कि चीन ने संक्रमण के शुरुआती हफ्तों में घरेलू यात्रा को बंद कर दिया, लेकिन विदेशी उड़ानों को स्वतंत्र रूप से जारी रखा, आखिर ऐसा क्यों?

दूसरी ओर कोरोना वायरस की चपेट में आए अमेरिका ने भी विश्व स्वास्थ्य संगठन की जमकर आलोचना की और डब्ल्यूएचओ और चीन के बीच भूमिका की जांच की मांग भी की थी। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप कई बार कोरोना वायरस संक्रमण के लिए खुले तौर पर चीन को जिम्मेदार ठहरा चुके हैं। इस हफ्ते भी उन्होने वायरस के लिए चीन जिम्मेदार ठहराया।

जॉन हॉपकिंस विश्वविद्यालय के कोरोना ट्रैकर के मुताबिक दुनिया भार में 31 मिलियन (तीन करोड़) से अधिक लोगों को संक्रमित किया है और लगभग 10 लाख लोगों की मौत हो चुकी है। चीन पर आरोप है कि उसने इस वायरस के विकराल रूप को छुपाने की कोशिश की है। अमेरिका और भारत में इस वायरस का संक्रमण आज भी बहुत तेजी से बढ़ रहा है।

यह भी पढ़ें- Corona Vaccine: भारत बायोटेक की कोरोना वैक्सीन के फेज 3 ट्रायल को मिली अनुमति, जानें यूपी में कहां होगा परीक्षण

कोरोना वायरस के शुरुआती दौर में अमेरिका ने डब्ल्यूएचओ के रिस्पॉन्स को लेकर स्वतंत्र जांच की मांग की थी। इस सप्ताह संयुक्त राष्ट्र महासभा में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप एक बार फिर कोरोना को लेकर चीन की आलोचना की। ट्रंप ने इस वायरस के लिए चीन को जिम्मेदार बताया।

नई दिल्ली और जेनेवा के राजनयिकों में से एक ने कहा कि कि न्यूजीलैंड के पूर्व प्रधान मंत्री हेलेन क्लार्क और लाइबेरिया के पूर्व राष्ट्रपति एलेन जॉनसन सिलेफ की सह-अध्यक्षता वाले स्वतंत्र पैनल की यह रिपोर्ट चीन के संदर्भ में डब्ल्यूएचओ द्वारा बीमारी से निपटने के लिए महत्वपूर्ण होगी। हालांकि, टेड्रोस और स्वतंत्र पैनल ने पहले ही यह साफ कर दिया है कि यह समय किसी की गलती निकालने का नहीं है। बल्कि यह भविष्य में किसी महामारी के लिए दुनिया की तैयारी को बेहतर बनाने का प्रयास है।

यह भी पढ़ें- कोरोना वैक्सीन को लेकर जगी एक और उम्मीद, Johnson & Johnson ने शुरू किया अंतिम चरण का परीक्षण

पिछले हफ्ते पैनल की एक बैठक में न्यूजीलैंड के पूर्व प्रधान मंत्री और पैनल के सह-अध्यक्ष हेलेन क्लार्क ने कहा कि इस पैनल को इस बात पर प्रकाश डालना चाहिए कि क्या हुआ और क्यों? यह आरोप-प्रत्यारोप की एक्सरसाइज नहीं है। यह पैनल अगले साल मई में अगले विश्व स्वास्थ्य सभा (डब्ल्यूएमए) के समक्ष अपनी अंतिम रिपोर्ट प्रस्तुत करने वाला है, लेकिन अन्य बैठकों में भी इसके लगातार अपडेट आते रहेंगे। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:The independent panel on Covid-19 will submit its first update to the world body executive board at its meeting on 5-6 October