DA Image
हिंदी न्यूज़ › विदेश › तालिबान अपना रहा लड़ाई का नया तरीका, आम लोगों के घर में ठिकाना बना कर रहा हमला
विदेश

तालिबान अपना रहा लड़ाई का नया तरीका, आम लोगों के घर में ठिकाना बना कर रहा हमला

एजेंसियांPublished By: Deepak
Mon, 12 Jul 2021 02:48 PM
तालिबान अपना रहा लड़ाई का नया तरीका, आम लोगों के घर में ठिकाना बना कर रहा हमला

अफगानिस्तान में तालिबान ने लड़ाई का नया ढंग अपनाया है। इससे अफगानिस्तान आर्मी को तालिबान लड़ाकों पर हमला करने में मुश्किलें आ रही हैं। असल में तालिबान ने मध्य अफगानिस्तान में स्थित गजनी शहर को घेर लिया है। इसके बाद वो आम ना​गरिकों के घरों पर कब्जा करके यहां से सुरक्षा बलों पर हमले कर रहा है। गौरतलब है ​कि अमेरिकी सेना 31 जुलाई तक अफगानिस्तान को छोड़कर चली जाएगी। इस बात की घोषणा होने के साथ ही तालिबान ने यहां हिंसा और मारकाट शुरू दी थी।

गजनी की प्रांतीय परिषद के सदस्य हसन रेजाई ने कहा कि गजनी​ की स्थिति काफी ज्यादा खराब है। तालिबान आम नागरिकों के घरों को अपना ठिकाना बना रहा है। इससे अफगान सुरक्षा बल को उनके खिलाफ कार्रवाई करने में मुश्किलें आ रही हैं। उधर तालिबान और अफगान सरकार के बीच शांतिवार्ता कतर की राजधानी में चल रही है। हालांकि आधिकारिक जानकारियों के मुताबिक इसमें बहुत ज्यादा प्रगति नहीं है। वहीं स्थानीय लोगों का कहना है दोनों पक्षों के बीच कांधार के ​दक्षिणी प्रांत में तेज संघर्ष जारी है। बताया जाता है कि यह वो इलाका है जहां पर पारंपरिक रूप से तालिबान की पकड़ मजबूर रही है। अफगानिस्तान के पूर्व सांसद हामिद ललाय जो कि सुरक्षा बलों की तरफ से तालिबान के खिलाफ संघर्ष में शामिल हैं, बताते हैं कि गजनी काबुल और कांधार के बीच मुख्य रास्ता है। पिछले चार दिन से तालिबान कांधार शहर पर पश्चिमी तरफ से हमला कर रहा है। उन्होंने कहा कि अफगान सुरक्षा बल और विशेष बल तालिबान को पीछे धकेलने की कोशिश कर रहे हैं।

हवाई हमले में कई तालिबानियों की मौत
वहीं अफगानिस्तान एयर फोर्स के विभिन्न हवाई हमलों में कम से कम 40 तालिबानी मारे गए हैं। यह हवाई हमले रविवार को किए गए थे और अफगानिस्तान के रक्षा मंत्री ने सोमवार को इसकी पुष्टि की। मंत्रालय की तरफ से जारी बयान में दक्षिणी हेलमंद प्रांत में 14 आतंकी मारे गए, वहीं गार्मसेर जिले में दो अन्य घायल हुए हैं। मारे गए आतंकवादियों मे मौलावी हिजरत नाम का आतंकी भी है जो गार्मसेर की रेड यूनिट में तालिबान का डिप्टी कमांडर था। वहीं दिलराम जिले में हुए हवाई हमले में 35 आतंकी मारे गए हैं और कई अन्य घायल हुए हैं। 

संबंधित खबरें