DA Image
Thursday, December 2, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ विदेशअफगानिस्तानः अपनों को जमीन बांटने के लिए शियाओं को जबरन निकाल रहा तालिबान

अफगानिस्तानः अपनों को जमीन बांटने के लिए शियाओं को जबरन निकाल रहा तालिबान

एजेंसी,न्यूयार्कGaurav Kala
Fri, 22 Oct 2021 07:18 PM
अफगानिस्तानः अपनों को जमीन बांटने के लिए शियाओं को जबरन निकाल रहा तालिबान

ह्यूमन राइट्स वॉच (एचआरडब्ल्यू) ने शुक्रवार को कहा कि अफगानिस्तान के कई प्रांतों में तालिबान के अधिकारी अपने समर्थकों को जमीन बांटने के लिए वहां के मूल निवासियों को जबरन विस्थापित कर रहा है। अपनी नवीनतम रिपोर्ट में एचआरडब्ल्यू का कहना है कि अधिकतर शिया समुदाय के लोगों को निशाना बनाया जा रहा है। 

एचआरडब्ल्यू के अनुसार, तालिबान और संबंधित मिलिशिया ने अक्टूबर 2021 के महीने में दक्षिणी हेलमंद प्रांत और उत्तरी बल्ख प्रांत से सैकड़ों हजारा परिवारों को जबरन बेदखल किया। यह दाइकुंडी, उरुजगन और कंधार प्रांतों से पहले बेदखली की रिपोर्ट के बाद सामने आया है। चूंकि तालिबान ने अगस्त के मध्य में सत्ता पर कब्जा कर लिया था, संगठन ने इन पांच प्रांतों में कई निवासियों को अपने घरों और खेतों को छोड़ने के लिए मजबूर किया।

एएनआई के मुताबिक, ह्यूमन राइट्स वॉच के सहयोगी और एशिया निदेशक पेट्रीसिया गोसम ने कहा, "तालिबान जबरदस्ती कर रहा है। तालिबान अपने समर्थकों को पुरस्कृत करने के लिए जाति या राजनीतिक आधार पर हजारों लोगों को बेदखल कर रहा है"। अफगानिस्तान में बढ़ते मानवीय संकट के बीच  शिया समुदाय के हजारों लोग इस वक्त कठिन समय का सामना कर रहे हैं। विस्थापन शिविरों में भोजन की कमी भी झेल रहे हैं। 

अंतरराष्ट्रीय प्रवासन संगठन (आईओएम) ने पिछले महीने कहा था कि अफगानिस्तान में कुल 55 लाख लोग आंतरिक रूप से विस्थापित हुए हैं। संयुक्त राष्ट्र के OSHA की रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले आठ महीनों में 5 लाख 592 से अधिक विस्थापित हुए। 

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें