ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News विदेशमंदिर में एक महिला को मारा थप्पड़, दूसरी को कहा वेश्या, सिंगापुर में भारतीय मूल के वकील पर संगीन आरोप

मंदिर में एक महिला को मारा थप्पड़, दूसरी को कहा वेश्या, सिंगापुर में भारतीय मूल के वकील पर संगीन आरोप

सिंगापुर में भारतीय मूल के एक वकील पर एक हिंदू मंदिर में एक महिला के गाल पर थप्पड़ मारने के आरोप में मुकदमा दर्ज हुआ है। वह पहले से ही किसी अन्य मामले के सिलसिले में प्रैक्टिस से निलंबित हो चुके हैं।

मंदिर में एक महिला को मारा थप्पड़, दूसरी को कहा वेश्या, सिंगापुर में भारतीय मूल के वकील पर संगीन आरोप
Gaurav Kalaपीटीआई,सिंगापुरSun, 17 Sep 2023 06:41 PM
ऐप पर पढ़ें

सिंगापुर में भारतीय मूल के एक वकील पर एक हिंदू मंदिर में एक महिला के गाल पर थप्पड़ मारने के आरोप में मुकदमा दर्ज हुआ है। वह पहले से ही किसी अन्य मामले के सिलसिले में प्रैक्टिस करने से निलंबित किए जा चुके हैं। यह कार्रवाई राज्य अदालतों के आदेश पर किया गया है। स्थानीय न्यूज रिपोर्ट है कि वकील ने कथित पर एक अन्य महिला को वेश्या कहा।

आरोपी वकील का नाम रवि मदसामी है, जिन्हें एम रवि के नाम से भी जाना जाता है, ने शुक्रवार को डाउनटाउन साउथ ब्रिज रोड के एक हिंदू मंदिर में महिला को थप्पड़ मार दिया था। उन पर चोट पहुंचाने के लिए एक, सार्वजनिक रूप से आपत्तिजनक व्यवहार के लिए एक और डाउनटाउन साउथ ब्रिज रोड के एक हिंदू मंदिर में उत्पीड़न से संरक्षण अधिनियम के तहत दो आरोप लगाए गए। रविवार को द स्ट्रेट्स टाइम्स की एक रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है।

अश्लील भाषा का प्रयोग
समाचार रिपोर्ट में कहा गया है कि 54 वर्षीय वकील ने कथित तौर पर श्री मरिअम्मन मंदिर में महिला को थप्पड़ मारा था, जहां उस पर अश्लील बातें करने और अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने का भी आरोप है, इसके बाद उसने मंदिर में एक अन्य महिला को उत्पीड़न करने के इरादे से कथित तौर पर वेश्या कहा। 

इस घटना से पहले, रवि ने कथित तौर पर मंदिर के आसपास पगोडा स्ट्रीट पर एक व्यक्ति के खिलाफ तमिल में अश्लील बातें कहकर अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल किया था, जिसका इरादा उसे परेशान करने का भी था। रवि को मेडिकल जांच के लिए शनिवार को मानसिक स्वास्थ्य संस्थान में रिमांड पर लिया गया और 29 सितंबर को अदालत में पेश किया जाएगा। उन पर जुलाई 2023 से इसी तरह के दो अन्य आरोप लंबित हैं। 

क्या हो सकती है सजा
सिंगापुर के कानून के हिसाब से जो लोग सार्वजनिक रूप से अव्यवस्थित व्यवहार के दोषी पाए जाते हैं, उन पर 1,000 सिंगापुर डॉलर (एसजीडी) तक का जुर्माना और एक महीने तक की जेल हो सकती है। यदि वे बार-बार अपराध करते हैं, तो उन पर 2,000 एसजीडी तक का जुर्माना, या छह महीने तक की जेल, या दोनों हो सकते हैं।

स्वेच्छा से चोट पहुंचाने के लिए अपराधी को तीन साल तक की जेल, एसडीजी 5,000 तक का जुर्माना या दोनों हो सकते हैं। जो लोग अपशब्दों का प्रयोग करके उत्पीड़न करने के इरादे से दोषी पाए जाते हैं, उन्हें उत्पीड़न से संरक्षण अधिनियम के तहत 5,000 एसजीडी तक का जुर्माना, छह महीने तक की जेल या दोनों हो सकते हैं।