Scientists created air-to-water absorption equipment - वैज्ञानिकों ने बनाया हवा से पानी सोखने वाला उपकरण DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वैज्ञानिकों ने बनाया हवा से पानी सोखने वाला उपकरण

world tourism day, 27 september 2018, world tourism day 2018, paryatan parv, tourism day, happy worl

वैज्ञानिकों ने एक ऐसा खास उपकरण विकसित किया है, जो हवा से पानी सोख सकता है और धूप की गर्मी से इसे छोड़ सकता है। अनुसंधानकर्ताओं ने कहा कि यह खोज सुदूर बंजर इलाकों में पेयजल का नया सुरक्षित स्रोत प्रदान कर सकती है। दुनियाभर में पृथ्वी के वायुमंडल की हवा में करीब 13 हजार अरब टन पानी है।

 इस पानी को हासिल करने के लिए कई उपकरण विकसित किए गए, लेकिन वे या तो इस काम में अक्षम साबित हुए या महंगे और जटिल साबित हुए। सऊदी अरब की किंग अब्दुल्ला यूनिवर्सिटी ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी  (केएयूएसटी) के अनुसंधानकर्ताओं ने नया उपकरण विकसित किया है। इसमें सस्ते, स्थिर, विषाक्तता रहित नमक और कैल्शियम क्लोराइड का इस्तेमाल किया गया। 

यूनिवर्सिटी के पीएचडी छात्र रेनयुआन ली का कहना है, ‘नमक का संबंध पानी से है और वह आसपास के वातावरण से पानी सोख लेगा और वह एक पानी के तालाब में तब्दील हो सकेगा।’ माना जा रहा है कि कैल्शियम क्लोराइड में पानी सोखने की काफी ज्यादा क्षमता होती है, लेकिन इसे ठोस से पानी में बदलना बड़ी चुनौती थी।  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Scientists created air-to-water absorption equipment