ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News विदेशउत्तर कोरिया की तेजी से घटती आबादी, किम जोंग उन का फरमान- ज्यादा बच्चे पैदा करें महिलाएं

उत्तर कोरिया की तेजी से घटती आबादी, किम जोंग उन का फरमान- ज्यादा बच्चे पैदा करें महिलाएं

1970-80 के समय में उत्तर कोरिया में जन्म नियंत्रण कानून लागू किया गया था। 1990 में पड़े अकाल के कारण यहां हजारों लोग मारे गए। वहीं यहां संसाधनों, उद्योग की तकनीकी प्रगति के कारण भी दिक्कतें बढ़ी।

उत्तर कोरिया की तेजी से घटती आबादी, किम जोंग उन का फरमान- ज्यादा बच्चे पैदा करें महिलाएं
Nisarg Dixitएजेंसी,सियोलTue, 05 Dec 2023 07:27 AM
ऐप पर पढ़ें

South Korea Population: देश में घटती आबादी से उत्तर कोरिया के तानाशाह शासक किम जोंग उन परेशान हैं। उन्होंने महिलाओं से अपील की है कि अधिक से अधिक बच्चे पैदा करें क्योंकि राष्ट्रहित में जन्मदर में आ रही गिरावट को रोकना उनका कर्तव्य है। किम जोंग उन ने रविवार देर शाम महिलाओ के एक सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि जन्मदर की गिरावट को रोकने का प्रयास हम सभी को मिलकर करना चाहिए। 

उन का कहना है कि इसे मिलकर हल करें। ज्ञात रहे कि उत्तर कोरिया की आबादी तेजी से कम हो रही है और यहां श्रम शक्ति का आभाव है। यहां ज्यादातर लोग एक से अधिक बच्चा नहीं चाहते। उनका मानना है कि उनकी अच्छी परवरिश, शिक्षा और नौकरी आदि के लिए बहुत से पैसों की जरूरत है, लेकिन देश की लचर अर्थव्यवस्था और प्रतिबंधों के कारण ये संभव नहीं है।

संकट में उद्योग
1970-80 के दशक में उत्तर कोरिया में जन्म नियंत्रण कानून लागू किया गया था। 1990 में पड़े अकाल के कारण यहां हजारों लोग मारे गए। वहीं यहां संसाधनों, उद्योग की तकनीकी प्रगति के कारण भी दिक्कतें बढ़ी। यहां के उद्योगों का कहना है कि अगर पर्याप्त श्रम बल नहीं उपलब्ध कराया गया तो विनिर्माण उद्योगों को पुर्नजीवित और विकसित करने में कठिनाई होगी।

सरकार दे रही सुविधा
उत्तर कोरियाई मीडिया के अनुसार, सरकार देश में तीन या उससे अधिक बच्चों वाल परिवारों को विशेष लाभ दे रही है। इसमें तय मुफ्त अनाज, आवास, सब्सिडी, निशुल्क उपचार, बच्चो की शिक्षा भी शामिल हैं, लेकिन बावजूद इसके लोग अधिक बच्चे पैदा करने से बच रहे हैं।

दक्षिण कोरिया पर आरोप
उत्तर कोरिया की एक स्वास्थ्य संबंधी वेबसाइट के प्रमुख अहं क्यूंग सु का कहना है कि बीते बीस सालों में दक्षिण कोरिया के कई नाटकों, फिल्मों की तस्करी कर उन्हें देश में देखा जाता रहा है, जिनमें महिलाओं की स्थिति मजबूत दिखाई गई है जो यहां की महिलाओं की मनोस्थिति को प्रभावित करती है और ज्यादा बच्चे पैदा न करने के लिए प्रभावित करती है।

दक्षिण कोरिया में स्थिति और खराब
पिछले 60 वर्षों में, दक्षिण कोरिया में दर्ज मानव इतिहास में सबसे तेजी से प्रजनन क्षमता में गिरावट आई है। 1960 में, देश की कुल प्रजनन दर - एक महिला के प्रजनन वर्षों के दौरान औसतन बच्चों की संख्या - प्रति महिला केवल छह बच्चों से कम थी। 2022 में यह आंकड़ा 0.78 था। दक्षिण कोरिया दुनिया का एकमात्र देश है जहां प्रति महिला एक बच्चे से कम की प्रजनन दर दर्ज की गई है , हालांकि अन्य - यूक्रेन , चीन और स्पेन - इसके करीब हैं।

- 2.5 करोड़ आबादी है उत्तर कोरिया की फिलहाल
- 2022 में प्रति महिला पूरे जीवन काल में प्रजनन दर 1.79 बच्चे पैदा करने की थी।

- 0.78 है दक्षिण कोरिया में प्रजनन दर का ये आंकड़ा
-10 सालों में उत्तर कोरिया में प्रजनन दर में आई है गिरावट

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें