ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News विदेशप्लेन हाईजैकर की रहस्यमयी कहानी; जब आसमान से ही हो गया गायब, 52 साल से हो रही तलाश

प्लेन हाईजैकर की रहस्यमयी कहानी; जब आसमान से ही हो गया गायब, 52 साल से हो रही तलाश

रहस्यमयी इंसान डीबी कूपर के बारे में आज भी कई तरह के दावे किए जाते हैं। कोई कहता है कि वह टाइम मशीन से आया तो कोई उसे एलियन कहता है। 52 साल पहले उसने एक प्लेन हाईजैक किया और हवा में गायब हो गया।

प्लेन हाईजैकर की रहस्यमयी कहानी; जब आसमान से ही हो गया गायब, 52 साल से हो रही तलाश
Gaurav Kalaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 22 Nov 2023 01:07 PM
ऐप पर पढ़ें

DB Cooper Story- इतिहास में घटी कई आपराधिक वारदातें ऐसी भी हैं जिनकी गुत्थी आज तक नहीं सुलझ पाई है। ऐसी ही एक चर्चा डीबी कूपर नाम के शख्स की भी होती है। वह ऐसा रहस्यमयी इंसान था, जिसके बारे में 52 साल बाद भी कई तरह के दावे किए जाते हैं। कोई कहता है कि वह टाइम मशीन से आया था तो कोई उसे एलियन कहता है। 52 साल पहले उसने एक प्लेन हाईजैक किया और करोड़ों की फिरौती लेकर हवा में ऐसे गायब हुआ कि न ही उसकी लाश मिली और न ही कोई सुराग या ठिकाना। उसका कोई पुराना रिकॉर्ड भी नहीं मिल पाया।

अमेरिकी पुलिस ने लिए डीबी कूपर नाम का शख्स आज तक पहेली बना हुआ है। 52 साल पहले 24 नवंबर, 1971 को वाशिंगटन से पोर्टलैंड जा रहा बोइंग 727 विमान का अपहरण कर लिया गया था। पुलिस को मालूम हुआ कि डीबी कूपर नाम के एक व्यक्ति ने पिस्टल के बल पर पूरे प्लेन को हाईजैक कर लिया है। उसने फ्लाइट के कर्मचारियों और यात्रियों को धमकाया कि उसके पास ब्रीफकेस में डायनामाइट जैसा बम है और वह उससे पूरे प्लेन को उड़ा सकता है। उसकी धमकी से सभी यात्री घंटों दहशत में रहे।

फ्लाइट कर्मी को थमाई पर्ची
24 नवंबर 1971 की शाम करीब 4 बजे कूपर ने टिकट काउंटर से फ्लाइट का टिकट लिया। उसने सूट पहना हुआ था और हाथ में था ब्रीफकेस। उन दिनों उतनी टाइट सिक्योरिटी नहीं होने की वजह से वह चेकिंग से बच निकला। उस फ्लाइट में 36 यात्री और 5 क्रू मेंबर थे। जब प्लेन ने उड़ान भरी तो कुछ देर बाद कूपर ने एक क्रू मेंबर को नोट थमाया। जब उसने बिना पढ़े उस नोट को अपनी जेब में रख दिया तो कूपर ने उसे बुलाकर नोट पढ़ने को कहा। कूपर ने कहा कि नोट पढ़ो- मैंने प्लेन हाईजैक कर लिया है और मेरे ब्रीफकेस में डायनामाइट है। उसने घबराकर यह जानकारी कैप्टन और बाकी क्रू मेंबर को दी। कुछ ही देर में पूरा प्लेन एक शख्स की दहशत में कांप रहा था।

दो पैराशूट और 2 लाख डॉलर की फिरौती
उस शख्स ने प्लेन के यात्रियों की जान के बदले अमेरिकी सरकार से 2 लाख डॉलर और दो पैराशूट की मांग की। उसने मांग की कि 2 लाख डॉलर को 20 डॉलर के बिल के रूप में लाया जाए ताकि वजन ज्यादा न हो। जब प्लेन सिएटल पहुंचा तो उसकी मांग के अनुसार, उसे वह रकम दो पैराशूट दिए गए। जब नेगोशिएशन के दौरान कूपर से पूछा गया कि उसे दो पैराशूट क्यों चाहिए? जवाब में उसने आशंका जताई कि एक पैराशूट हवा में खराब या फट सकता है। मांग पूरी होने के बाद कूपर ने यात्रियों को वहीं उतारा और क्रू मेंबर के साथ मैक्सिको के लिए प्लेन से निकल पड़ा।

अचानक हवा में ही हो गया गायब
कूपर ने कैप्टन से कहा था कि प्लेन को 10 हजार फीट की ऊंचाई पर ही उड़ाया जाए। इसके पीछे का कारण नहीं बताया लेकिन, बीच रास्ते में उसने प्लेन से छलांग लगा ली। जब मामले में पुलिस ने जांच की तो मालूम हुआ कि वह जमीन पर उतरा ही नहीं। उसका कोई ठिकाना भी नहीं मिला। डीबी कूपर का कोई पुराना रिकॉर्ड भी नहीं पता लग पाया। दुनिया की सबसे बेहतरीन खुफिया एजेंसी एफबीआई भी आज तक उसका कोई सुराग नहीं लगा पाई। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें