DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सेना और ISI के आलोचक पाकिस्तानी ब्लॉगर की हत्या, सोशल मीडिया पर उठी 'इंसाफ की मांग'

पाकिस्तान की शक्तिशाली सेना एवं जासूसी एजेंसी आईएसआई की आलोचना करने वाले 22 वर्षीय पाकिस्तानी ब्लॉगर एवं पत्रकार की यहां रविवार देर रात अज्ञात लोगों ने हत्या कर दी। मीडिया रिपोर्ट से जानकारी मिली। पाकिस्तानी अखबार डॉन ने पुलिस अधीक्षक सद्दार मलिक नईम के हवाले से बताया कि ब्लॉगर मोहम्मद बिलाल खान अपने एक रिश्तेदार एहतेशाम के शाम थे, तभी उन्हें एक फोन आया, जिसके बाद एक व्यक्ति रविवार रात को उन्हें निकटवर्ती जंगल लेकर गया।

नईम ने बताया कि बिलाल पर इस्लामाबाद के जी-9/4 इलाके में हमला किया गया। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया, लेकिन गंभीर रूप से घायल होने के कारण उनकी मौत हो गई। उनका रिश्तेदार भी गंभीर रूप से घायल हो गया और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। संदिग्ध ने हत्या के लिए खंजर का इस्तेमाल किया। कुछ लोगों ने बंदूक चलने की भी आवाज सुनी।

एक पाकिस्तानी व्यक्ति ने ट्वीट किया कि पाकिस्तानी पत्रकार मोहम्मद बिलाल की इस्लामाबाद में रविवार देर रात गोली मारकर हत्या कर दी गई। खान को ताकतवर सेना एवं उसकी कुख्यात जासूसी एजेंसी के आलोचक के तौर पर जाना जाता था। मृतक के पिता अब्दुल्ला ने बताया कि खान के शरीर पर किसी धारदार हथियार के निशान थे। इस संबंध में आतंकवाद रोधी कानून समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। उनके पिता ने कहा कि इस घटना ने लोगों में भय पैदा कर दिया है।

इंसाफ की मांग उठी
ब्लॉगर एवं पत्रकार खान की हत्या के बाद हैशटैग ‘जस्टिस फॉर मोहम्मद बिलाल खान’ सोशल मीडिया पर ट्रेंड होने लगा। कई ट्विटर उपयोगकर्ताओं ने कहा कि पाकिस्तानी सेना और आईएसआई के आलोचक होने के कारण उनकी हत्या की गई। बता दें कि इससे पहले भी कई ब्लॉगर और पत्रकारों को सेना की आलोचना करने पर जेल में डाला गया है।

सोशल मीडिया पर लोकप्रिय थे बिलाल 
ब्लॉगर मोहम्मद बिलाल खान के ट्विटर पर 16000, यू-ट्यूब पर 48000 और फेसबुक पर 22000 फोलोवर्स हैं। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Pakistani blogger and journalist known for criticising army hacked to death