Pakistani Army Ready To Take Any Challenge Says Major General Asif Ghafoor - पाकिस्तानी सेना की गीदड़भभकी, किसी भी चुनौती का सामना करने के लिए 'पूरी तरह तैयार' DA Image
13 दिसंबर, 2019|8:23|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाकिस्तानी सेना की गीदड़भभकी, किसी भी चुनौती का सामना करने के लिए 'पूरी तरह तैयार'

pakistani army officer   officialdgispr twitter 6 august  2019

भारत और पाकिस्तान के बीच कश्मीर मुद्दे पर जारी तनाव के बीच पाक ने शनिवार को कहा कि वह भारत की किसी भी चुनौती से निपटने के लिए 'पूरी तरह तैयार' है। सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने कश्मीर में स्थिति पर देश के शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठक करने के बाद विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा कि ऐसा हो सकता है कि भारत कश्मीर से दुनिया का ध्यान हटाने के लिए हमला करे।

उन्होंने कहा, ''हमें आशंका है कि भारत ध्यान बंटाने के लिए हमला कर सकता है लेकिन हम किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं।” गफूर ने कहा कि ऐसी किसी भी स्थिति से निपटने के लिए नियंत्रण रेखा के पास पर्याप्त सैन्य बल तैनात किया गया है। अप्रत्याशित युद्ध की आशंका के प्रति चेताते हुए सेना प्रवक्ता ने कहा, “कश्मीर मुद्दा परमाणु टकराव का कारण बन सकता है।”

कुरैशी ने संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि देश के शीर्ष अधिकारियों ने विदेश मंत्रालय में विशेष कश्मीर प्रकोष्ठ गठित करने का निर्णय किया है। साथ ही विदेश मंत्री ने कश्मीर मुद्दे पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में हुई अनौपचारिक बैठक का संदर्भ देते हुए कहा कि इस मुद्दे को शीर्ष स्तर पर उठाया जाना एक बड़ी सफलता है।

परमाणु हथियारों को लेकर राजनाथ के बयान पर बौखलाया पाकिस्तान

वहीं दूसरी ओर पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के परमाणु हथियारों को लेकर दिये गए बयान की निंदा करते हुए उसे "गैर-जिम्मेदाराना" और "दुर्भाग्यपूर्ण" करार दिया। राजनाथ सिंह ने कहा था कि भारत हमेशा से परमाणु हथियारों के "पहले इस्तेमाल नहीं" की नीति पर कायम रहा है लेकिन "भविष्य में क्या होगा यह परिस्थितियों पर निर्भर करेगा।

राजनाथ का यह बयान पोकरण दौरे के बाद आया जहां भारत ने 1998 में अटल बिहारी वाजपेयी के प्रधानमंत्री रहते परमाणु परीक्षण किया था। कुरैशी ने कहा, "भारतीय रक्षा मंत्री के बयान का अर्थ और समय बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है और यह भारत के गैर जिम्मेदाराना और युद्धकारी रवैये को दर्शाता है।" उन्होंने कहा, "पाकिस्तान न्यूनतम परमाणु प्रतिरोधी क्षमता बरकरार रखेगा।" उन्होंने कहा कि भारत के रक्षा मंत्री का बयान उनकी "अज्ञानता" को दर्शाता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Pakistani Army Ready To Take Any Challenge Says Major General Asif Ghafoor