DA Image
26 मई, 2020|1:10|IST

अगली स्टोरी

'PAK सबसे खतरनाक देशों में से एक, भारत के खिलाफ हथियार की तरह कर रहा आतंकवाद का इस्तेमाल'

india and pakistan flag  photo  hindustan times

अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआईए के एक पूर्व अधिकारी ने कहा कि भारत को अस्तित्व के लिए खतरा मानने वाले पाकिस्तान ने उसके खिलाफ अपने संघर्ष में ''आतंकवादी संगठनों" को हथियार बना दिया है। सीआईए के पूर्व कार्यवाहक निदेशक माइकल मोरेल ने कर्ट कैम्पेल और रिच वर्मा के साथ बृहस्पतिवार को चर्चा के दौरान आरोप लगाया कि पाकिस्तान दुनिया के सबसे खतरनाक देशों में से एक है।

मोरेल ने कहा कि पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ अपने संघर्ष में ''आतंकवादी संगठनों" को हथियार बना दिया है। उन्होंने कहा, ''उन्हें यह समझ नहीं आता कि इन आतंकवादी संगठनों को नियंत्रण में रखना असंभव है और अंतत: ये आपके ऊपर वार करने आएंगे। मुझे लगता है कि अंतत: पाकिस्तान दुनिया का सबसे खतरनाक देश बन सकता है।"

भारत की बड़ी कामयाबी, जैश-ए-मोहम्मद सरगना मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र ने घोषित किया ग्लोबल टेररिस्ट

अलकायदा सरगना ओसामा बिन लादेन के खिलाफ पाकिस्तान के ऐबटाबाद में कार्रवाई में अहम भूमिका निभाने वाले मोरेल ने कहा कि इस दक्षिण एशियाई देश में जनसंख्या तेजी से बढ़ रही है। उन्होंने कहा, ''अर्थव्यवस्था किस दिशा में जा रही है, इसका कुछ अता-पता नहीं है। युवाओं के लिए नौकरी नहीं है। शिक्षा प्रणाली चरमराई हुई है।"

मोरेल ने कहा कि पाकिस्तानी सेना में अतिवाद बढ़ रहा है। उन्होंने कहा, ''वे वर्तमान और भविष्य में भी भारत को पाकिस्तान के अस्तित्व के लिए खतरे के तौर पर देखते हैं। भारत ने पाकिस्तान पर ध्यान देना बहुत पहले की छोड़ दिया है। वह अपने आर्थिक भविष्य पर ध्यान केंद्रित कर रहा है।"

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने सेना को बहुत अधिक ताकत दे दी है और असैन्य सरकार के पास उतनी ताकत नहीं है। मोरेल ने कहा, ''मुझे और लोगों को लगता है कि सरकार जो फैसले करती है वह पाकिस्तान के दीर्घकालीन हित में नहीं हैं। पाकिस्तान ने शिक्षा के बजाए परमाणु हथियारों पर अधिक धन खर्च किया है।"

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Pakistan uses terrorism as tool against India Reveal By former CIA director