ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News विदेशदिल्ली से भी बदतर हुआ पाकिस्तान के शहर का हाल, घुटने लगा दम; 'स्मॉग आपातकाल' घोषित

दिल्ली से भी बदतर हुआ पाकिस्तान के शहर का हाल, घुटने लगा दम; 'स्मॉग आपातकाल' घोषित

वायु गुणवत्ता सूचकांक के लगातार खतरनाक स्तर पर बने रहने के कारण लाहौर में तुरंत स्मॉग आपातकाल लागू करने के लाहौर उच्च न्यायालय के आदेश के मद्देनजर सरकार ने यह फैसला किया था।

दिल्ली से भी बदतर हुआ पाकिस्तान के शहर का हाल, घुटने लगा दम; 'स्मॉग आपातकाल' घोषित
Amit Kumarएजेंसियां,लाहौरThu, 02 Nov 2023 11:35 PM
ऐप पर पढ़ें

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की ही तरह पड़ोसी देश पाकिस्तान के भी कई शहर वायु प्रदूषण की गंभीर समस्या से जूझ रहे हैं। पाकिस्तान में अधिकारियों ने धुंध से घिरे लाहौर शहर में स्कूली बच्चों को गुरुवार से शुरू होने वाली कक्षाओं के दौरान मास्क पहनने का आदेश दिया है। यह प्रदूषित हवा के खतरनाक स्तर से बचाने का एक प्रयास है। उच्च न्यायालय द्वारा "स्मॉग आपातकाल" घोषित करने के बाद पंजाब राज्य सरकार ने शासनादेश जारी किया है और अधिकारियों से स्वास्थ्य समस्याओं को कम करने में मदद के लिए कदम उठाने को कहा है।

पाकिस्तान के पंजाब प्रांत की राजधानी लाहौर बृहस्पतिवार को लगातार दूसरे दिन दुनिया भर के सबसे प्रदूषित प्रमुख शहरों में से एक रही। एक वैश्विक वायु गुणवत्ता निगरानी मंच ने यह जानकारी दी। पंजाब की कार्यवाहक सरकार ने बुधवार को खतरनाक वायु गुणवत्ता को नियंत्रित करने के लिए 12 करोड़ से अधिक आबादी वाले पंजाब प्रांत में "स्मॉग आपातकाल" लागू किया था। 'आईक्यूएयर डॉट कॉम' ने कहा है कि लाहौर दुनिया का दूसरा सबसे प्रदूषित शहर बना हुआ है।

वायु गुणवत्ता सूचकांक के लगातार खतरनाक स्तर पर बने रहने के कारण लाहौर में तुरंत "स्मॉग आपातकाल" लागू करने के लाहौर उच्च न्यायालय के आदेश के मद्देनजर सरकार ने यह फैसला किया था। सरकार ने कहा कि पर्यावरण विभाग औद्योगिक इकाइयों पर सील लगाएगा, जिन्हें सिर्फ अदालत के आदेश के जरिए फिर से खोला जाना संभव होगा। 

सरकार ने कहा कि जिला प्रशासन पराली जलाने से रोकने के लिए  सख्त कार्रवाई करेगा। इसके अलावा ईंट भट्टों के साथ-साथ कारखानों की किसी भी चिमनी से निकलने वाले काले धुएं को लेकर कार्रवाई करेगा। सरकार के अनुसार ईंट भट्टों को 'जिगजैग' तकनीक पर स्थानांतरित किया जाना चाहिए।

सरकार ने कहा, "धुआं छोड़ने वाले प्रत्येक वाहन को जब्त कर लिया जाएगा और उचित फिटनेस प्रमाण पत्र प्राप्त करने के बाद ही छोड़ा जाएगा।" लाहौर उच्च न्यायालय के न्यायाधीश शाहिद करीम ने बुधवार को वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने में विफलता के लिए लाहौर के आयुक्त को फटकार लगाई थी। न्यायाधीश ने कहा था, "स्मॉग मेरी व्यक्तिगत समस्या नहीं है, बल्कि यह हमारे बच्चों के जीवन के लिए चिंता का विषय है। आप लाहौर शहर के संरक्षक हैं। देखें कि आपने इसके साथ क्या किया है...आपको लाहौर की स्थिति पर शर्म आनी चाहिए।"

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें