ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News विदेशपाकिस्तान: स्टेडियम के पास आतंकी हमला, मैच खेल रहे थे बाबर आजम और शाहिद अफरीदी

पाकिस्तान: स्टेडियम के पास आतंकी हमला, मैच खेल रहे थे बाबर आजम और शाहिद अफरीदी

ये खिलाड़ी पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) का एक प्रदर्शनी मैच खेल रहे थे, जिसे इस धमाके के बाद कुछ देर के लिए रोक दिया गया। यह विस्फोट पुलिस लाइंस क्षेत्र में हुआ जिसमें पांच लोग घायल हो गए।

पाकिस्तान: स्टेडियम के पास आतंकी हमला, मैच खेल रहे थे बाबर आजम और शाहिद अफरीदी
Madan Tiwariलाइव हिन्दुस्तान,इस्लामाबादSun, 05 Feb 2023 05:16 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

पाकिस्तान में रविवार को एक बार फिर से विस्फोट हुआ है। क्वेटा पुलिस लाइन एरिया में हुए इस बम ब्लास्ट में कम से कम पांच लोग घायल हो गए। पिछले दिनों पेशावर में भी एक भीषण आत्मघाती हमला हुआ था, जिसमें 100 से अधिक लोगों की जान चली गई थी। कप्तान बाबर आजम और शाहिद अफरीदी सहित शीर्ष पाकिस्तानी क्रिकेटरों को नवाब अकबर बुगती स्टेडियम से कुछ मील की दूरी पर रविवार को हुए आतंकी हमले के बाद सुरक्षा के लिए ड्रेसिंग रूम में ले जाया गया। ये खिलाड़ी पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) का एक प्रदर्शनी मैच खेल रहे थे, जिसे इस धमाके के बाद कुछ देर के लिए रोक दिया गया।

यह विस्फोट पुलिस लाइंस क्षेत्र में हुआ जिसमें पांच लोग घायल हो गए। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि बचाव कार्य पूरा हो गया है और घायलों को अस्पताल पहुंचा दिया गया। बम धमाके के बाद रेस्क्यू ऑपरेशन में लगे जीशान अहमद ने स्थानीय वेबसाइट 'द डॉन' को बताया कि ब्लास्ट में घायल हुए लोगों को नजदीक के सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया गया है, जहां पर उनका इलाज चल रहा है। उन्होंने कहा कि धमाके के फौरन बाद इमरजेंसी और पुलिस की टीमें घटनास्थल पर पहुंच गई और पूरे इलाके को सील कर दिया गया है। 

तहरीक ए तालिबान पाकिस्तान (टीटीपी) ने रविवार को एक बयान में इस हमले की जिम्मेदारी ली है जिसमें कहा गया कि सुरक्षा अधिकारियों को निशाना बनाया गया था। पीएसएल की टीम क्वेटा ग्लैडिएटर्स और पेशावर जाल्मी के बीच एक प्रदर्शनी मैच पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) द्वारा आयोजित किया गया था। पुलिस अधिकारी ने कहा, ''जैसे ही धमाका हुआ, ऐहतियात के तौर पर मैच रोक दिया गया और खिलाड़ियों को कुछ देर के लिए ड्रेसिंग रूम में ले जाया गया। बाद में मैच बहाल हो गया।'' मैच के लिए मैदान खचाखच भरा था।

पेशावर हमले में 100 से अधिक की मौत
उत्तर पश्चिम पाकिस्तान के पेशावर शहर की एक मस्जिद में 30 जनवरी को आत्मघाती हमला कर 101 लोगों की जान ले ली गई थी। हमलावर पुलिस की वर्दी पहनकर उच्च सुरक्षा वाले क्षेत्र में घुसा था तथा हेलमेट और मास्क पहनकर मोटरसाइकिल से वहां आया था।  खैबर-पख्तुनख्वा के पुलिस महानिरीक्षक मोअज्जम जाह अंसारी ने यहां मीडियाकर्मियों से कहा कि पुलिस लाइन्स के मुख्य प्रवेश द्वार पर सुरक्षा जांच चौकी पर तैनात कर्मियों ने पुलिस वर्दी पहने हुए हमलावर की जांच नहीं की और उसे अंदर जाने दिया। उन्होंने कहा कि सीसीटीवी फुटेज से पता चला कि हमलावर खैबर रोड के रास्ते पुलिस लाइन्स क्षेत्र में आया था। पुलिस अधिकारी ने कहा कि हमलावर अकेला नहीं था और एक पूरा नेटवर्क उसकी मदद कर रहा था। उन्होंने कहा कि पुलिस हमले के लिए जिम्मेदार आतंकवादी नेटवर्क के करीब है। इससे पहले सूत्रों ने बताया था कि पाकिस्तान की सुरक्षा एजेंसियों ने इस आत्मघाती विस्फोट के सिलसिले में 17 संदिग्धों को गिरफ्तार किया है। पेशावर में हुए इस हमले में 97 पुलिसकर्मियों समेत 101 लोग मारे गए हैं।