ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News विदेशपाकिस्तान के पंजाब में धुंध से बुरा हाल, 4 दिन का सार्वजनिक अवकाश की घोषित

पाकिस्तान के पंजाब में धुंध से बुरा हाल, 4 दिन का सार्वजनिक अवकाश की घोषित

पंजाब के कार्यवाहक मुख्यमंत्री मोहसिन नकवी ने मंगलवार को कहा, 'धुंध के प्रभाव को कम करने के लिए पंजाब के लाहौर, गुजरांवाला और हाफिजाबाद संभाग में चार दिन के अवकाश की घोषणा की गई है।'

पाकिस्तान के पंजाब में धुंध से बुरा हाल, 4 दिन का सार्वजनिक अवकाश की घोषित
Niteesh Kumarभाषा,इस्लामाबादWed, 08 Nov 2023 12:08 AM
ऐप पर पढ़ें

पाकिस्तान के पंजाब में धुंध से बुरा हाल है। राज्य सरकार ने मंगलवार को प्रांतीय राजधानी लाहौर सहित सबसे अधिक आबादी वाले प्रांत के कई जिलों में 4 दिन के सार्वजनिक अवकाश की घोषणा की है। एक अधिकारी ने इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि 9 से 12 नवंबर तक इस सार्वजनिक अवकाश की घोषणा की गई है। पंजाब के कार्यवाहक मुख्यमंत्री मोहसिन नकवी ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, 'धुंध के प्रभाव को कम करने के लिए पंजाब के लाहौर, गुजरांवाला और हाफिजाबाद संभाग में चार दिन के अवकाश की घोषणा की गई है।'

मोहसिन नकवी ने कहा कि इन संभागों में पर्यावरण और स्वास्थ्य आपातकाल लगाया गया है। उन्होंने कहा कि शैक्षणिक संस्थान, सार्वजनिक और निजी कार्यालय, रेस्तरां, सिनेमा, पार्क और जिम गुरुवार से रविवार तक बंद रहेंगे। उन्होंने कहा कि बाजार और व्यापारिक केंद्र शनिवार और रविवार को बंद रहेंगे। हालांकि विवाह हॉल, फार्मेसी और बेकरियां खुली रहेंगी। उन्होंने कहा कि छुट्टियां सिर्फ इसी सप्ताह के लिए हैं। मुख्यमंत्री ने पर्यावरण प्रदूषण और धुंध को कम करने के लिए लोगों से छुट्टियों के दौरान घर पर रहने का आग्रह किया है।

लाहौर दुनिया के सबसे प्रदूषित शहरों में से एक
मालूम हो कि लाहौर दुनिया के सबसे प्रदूषित शहरों में से एक रहा है। नकवी ने पाकिस्तान के कार्यवाहक प्रधानमंत्री अनवारुल हक काकड़ से कहा कि लाहौर और प्रांत के अन्य हिस्सों में धुंध फैलने का मुख्य कारण भारतीय पंजाब में फसलों के अवशेष को जलाना है। काकड़ ने पंजाब सरकार को धुंध का मुद्दा भारत के समक्ष उठाने का आश्वासन दिया था। अगर, राजनीतिक हलचल की बात करें तो पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) और कराची स्थित मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट पाकिस्तान (एमक्यूएम-पी) ने सिंध प्रांत में आगामी आम चुनाव पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के खिलाफ संयुक्त रूप से लड़ने की घोषणा की। पीएमएल-एन और एमक्यूएम के शीर्ष नेताओं ने मंगलवार को लाहौर में अपनी बैठक के बाद घोषणा की कि वे 8 फरवरी 2024 का आम चुनाव संयुक्त रूप से लड़ेंगे।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें