ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News विदेशवैध मतों से ज्यादा पड़ गए वोट, नवाज शरीफ की जीत पर उठे सवाल, पाक में चुनाव चल रहा या मजाक

वैध मतों से ज्यादा पड़ गए वोट, नवाज शरीफ की जीत पर उठे सवाल, पाक में चुनाव चल रहा या मजाक

पाकिस्तान में चुनावी नतीजों में किसी ड्रामा की तरह उतार-चढ़ाव आ रहा है। इमरान खान की पार्टी पीटीआई के ट्विटर हैंडल पर एक चौंकाने वाला दावा है। इसमें नवाज शरीफ की जीत को चुनौती दी गई है।

वैध मतों से ज्यादा पड़ गए वोट, नवाज शरीफ की जीत पर उठे सवाल, पाक में चुनाव चल रहा या मजाक
Deepakलाइव हिन्दुस्तान,इस्लामाबादFri, 09 Feb 2024 11:50 PM
ऐप पर पढ़ें

पाकिस्तान में चुनावी नतीजों में किसी ड्रामा की तरह उतार-चढ़ाव आ रहा है। इमरान खान की पार्टी पीटीआई के ट्विटर हैंडल पर एक चौंकाने वाला दावा किया गया है। इसमें नवाज शरीफ की जीत को चुनौती दी गई है। ट्वीट में एक फोटो भी शेयर की गई है जिसमें वोटों का आंकड़ा दिखाया गया है। ट्वीट में लिखा गया है कि कुल वैध मतों की संख्या डाले गए मतों की कुल संख्या से अधिक है। आगे लिखा गया है कि जनसमर्थन की इस तरह से चोरी करने के लिए नवाज शरीफ को शर्म आनी चाहिए। बता दें कि नवाज शरीफ ने दावा किया है कि उनकी पार्टी सबसे चुनाव में सबसे बड़ा दल है और वह गठबंधन के लिए तैयार हैं।

क्या शेयर किया पीटीआई ने
पीटीआई ने सोशल मीडिया साइट एक्स पर जो तस्वीर शेयर की है, वह नवाज शरीफ के निर्वाचन क्षेत्र, एन 130-लाहौर 14 का चुनाव परिणाम है। इसमें परिणाम का ब्यौरा दिया गया है। जिस पेपर की तस्वीर लगाई गई है, उसमें कुल पड़े वोट 293693 बताए गए हैं। जबकि कुल वैध वोट 294043 बताए गए हैं। इसको लेकर ही पीटीआई ने दावा किया है कि नवाज शरीफ ने अपनी जीत का गलत दावा किया गया है। गौरतलब है कि पाकिस्तान में चुनाव के नतीजे अभी पूरी तरह से घोषित नहीं किए गए हैं। पाकिस्तान अखबार के डान के मुताबिक पीटीआई समर्थक उम्मीदवार 67 सीटों पर आगे चल रहे हैं। वहीं, नवाज शरीफ की पार्टी के उम्मीदवार 48 सीटों पर आगे चल रहे हैं।

इमरान की पार्टी को बढ़त
गौरतलब है कि जेल में बंद पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की पार्टी पीटीआई समर्थित निर्दलीय उम्मीदवारों को पाकिस्तान के चुनाव नतीजों में शुक्रवार को बढ़त मिलती दिख रही है। चुनाव के नतीजे असामान्य देरी के बाद धीरे-धीरे आने लगे हैं। चुनाव परिणाम में देरी को लेकर पीटीआई ने धांधली के आरोप भी लगाए। पाकिस्तान में मतगणना अब भी जारी है। देश में गुरुवार को चुनाव धांधली के आरोप, छिटपुट हिंसा और मोबाइल इंटरनेट बंद रहने के बीच कराए गए थे। पाकिस्तान में इस चुनाव में दर्जनों दल मैदान में थे, लेकिन मुख्य मुकाबला इमरान खान की पार्टी 'पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ' (पीटीआई), तीन बार प्रधानमंत्री रह चुके नवाज शरीफ की पाकिस्तान मुस्लिम लीग (एन) और बिलावल जरदारी भुट्टो की 'पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी' (पीपीपी) के बीच है।

देश में नई सरकार बनाने के लिए किसी भी पार्टी को नेशनल असेंबली में 265 में से 133 सीट जीतनी होगी। एक उम्मीदवार की मौत के बाद एक सीट पर चुनाव स्थगित कर दिया गया था। कुल मिलाकर, बहुमत हासिल करने के लिए 336 में से 169 सीट की जरूरत है, जिसमें महिलाओं और अल्पसंख्यकों के लिए सुरक्षित सीट भी शामिल हैं। पाकिस्तान के अधिकारी गुरुवार को हुए चुनाव के बाद नतीजे की घोषणा करने में बेहद धीमी गति से आगे बढ़ रहे थे। अभी तक हुई गणना के अनुसार, चुनाव लड़ने के लिए अयोग्य ठहराए गए और जेल में बंद पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की पार्टी ‘पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ’ (पीटीआई) द्वारा समर्थित निर्दलीय उम्मीदवारों ने आश्चर्यजनक रूप से अच्छा प्रदर्शन किया है। पाकिस्तान निर्वाचन आयोग (ईसीपी) ने पार्टियों, खासकर खान की पीटीआई की आलोचना का सामना करने के बाद तेज गति से नतीजों को अपडेट करना शुरू कर दिया। पीटीआई पार्टी ने आरोप लगाया था कि उसका जनादेश चुराया जा रहा है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें