ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News विदेशपाकिस्तान चुनाव में धांधली का मुद्दा गरमाया, कई बूथों पर दोबारा होगी वोटिंग; सड़कों पर उतरे लोग

पाकिस्तान चुनाव में धांधली का मुद्दा गरमाया, कई बूथों पर दोबारा होगी वोटिंग; सड़कों पर उतरे लोग

रिपोर्ट के अनुसार, मतदान सामग्री छीनने और नुकसान पहुंचाने की शिकायतों के सत्यापन के बाद यह फैसला लिया गया। 8 फरवरी को राष्ट्रव्यापी चुनाव कराने में इलेक्शन कमीशन के सामने कई चुनौतियां आईं।

पाकिस्तान चुनाव में धांधली का मुद्दा गरमाया, कई बूथों पर दोबारा होगी वोटिंग; सड़कों पर उतरे लोग
Niteesh Kumarलाइव हिन्दुस्तान,इस्लामाबादSun, 11 Feb 2024 12:42 PM
ऐप पर पढ़ें

पाकिस्तान चुनाव आयोग (ECP) ने देश भर में विभिन्न मतदान केंद्रों पर फिर से चुनाव कराने के आदेश दिए हैं। जियो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, मतदान सामग्री छीनने और नुकसान पहुंचाने की शिकायतों के सत्यापन के बाद यह फैसला लिया गया। 8 फरवरी को राष्ट्रव्यापी चुनाव कराने में आयोग के सामने कई चुनौतियां आईं। मतगणना प्रक्रिया शुरू हुए 48 घंटे से अधिक हो चुका है। फाइनल नतीजे घोषित करने का यह अंतिम चरण है। रिपोर्ट के मुताबिक, विभिन्न मतदान केंद्रों पर वोटिंग सामग्री छीनने और क्षतिग्रस्त करने की शिकायतें मिलीं जिसका आयोग की ओर से जवाब दिया गया। साथ ही कई जगहों पर स्थानीय चुनाव अधिकारियों को मतदान प्रक्रिया स्थगित करने के लिए मजबूर होना पड़ा।

इलेक्शन में धांधली के आरोपों को लेकर लोग सड़कों पर उतर आए। शनिवार को कई शहरों में प्रदर्शन हुए और खैबर पख्तूनख्वा में गोलीबारी भी हुई। आज भी लोग प्रदर्शन कर रहे हैं। इस बीच, चुनाव आयोग ने 15 फरवरी को कई मतदान केंद्रों पर फिर से वोटिंग कराने का फैसला लिया है। इनके नतीजे दोबारा से होने वाले मतदान कार्यक्रम के बाद घोषित होंगे। फिलहाल, जिन निर्वाचन क्षेत्रों में फिर से वोट डाले जाएंगे उनकी सूची और मतदान केंद्रों की संख्या कुछ इस प्रकार से है...

1. NA-88 खुशाब-II-पंजाब: यहां उग्र लोगों की भीड़ ने मतदान सामग्री को नष्ट कर दिया था। इसे देखते हुए 26 मतदान केंद्रों पर दोबारा वोट डलवाएं जाएंगे।
2. पीएस-18 घोटकी-I-सिंध: 8 फरवरी को अज्ञात लोगों ने मतदान सामग्री छीन ली थी। अब निर्वाचन क्षेत्र के 2 मतदान केंद्रों पर फिर से वोटिंग होगी।
3. पीके-90 कोहाट-I-खैबर पख्तूनख्वा: चुनाव के दिन आतंकवादियों ने मतदान सामग्री को नुकसान पहुंचाया था। इस कारण ईसीपी ने इस निर्वाचन क्षेत्र के 25 मतदान केंद्रों पर फिर से वोट डलवाने का फैसला लिया।

नवाज शरीफ और मरियम नवाज की जीत को भी चुनौती
पीएमएल-एन के प्रमुख नवाज शरीफ और उनकी बेटी के नेशनल असेंबली चुनाव में जीत को लाहौर हाई कोर्ट में चुनौती दी गई है। आरोप लगाया गया है कि निर्वाचन आयोग ने सही प्रक्रिया का पालन नहीं किया। लाहौर की सीटों से हार का सामना करने वाली पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ समर्थित उम्मीदवार डॉ. यास्मीन राशिद ने आरोप लगाए हैं। उन्होंने दावा किया कि निर्वाचन आयोग ने फॉर्म 45 के बजाय फर्जी फॉर्म 47 के अनुसार उन्हें विजेता घोषित किया। वहीं, पाकिस्तान में राष्ट्रमंडल चुनाव पर्यवेक्षकों के मिशन का कहना है कि कुछ घटनाओं को छोड़कर चुनाव प्रक्रिया सुचारू रूप से संपन्न हुई। मिशन के प्रमुख जोनाथन गुडलक ने इस्लामाबाद में राष्ट्रमंडल पर्यवेक्षक समूह के प्रारंभिक निष्कर्ष सौंपे। उन्होंने कहा कि ये निष्कर्ष चुनाव पूर्व माहौल, चुनाव दिवस पर पर्यवेक्षण और चुनाव के बाद के माहौल पर संक्षिप्त चिंतन से संबंधित थे।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें