ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ विदेशअब पाकिस्तान के कपड़ा उद्योग में भी हाहाकार, दो दिन में डूबा 1616 करोड़ का कारोबार

अब पाकिस्तान के कपड़ा उद्योग में भी हाहाकार, दो दिन में डूबा 1616 करोड़ का कारोबार

पाकिस्तानी न्यूज चैनल ARY न्यूज ने बताया कि ग्रिड विफलता की वजह से पाकिस्तान के कपड़ा क्षेत्र को 70 मिलियन अमेरिकी डॉलर यानी 1616 करोड़ रुपये (पाकिस्तानी रुपया) का भारी वित्तीय नुकसान पहुंचा है।

अब पाकिस्तान के कपड़ा उद्योग में भी हाहाकार, दो दिन में डूबा 1616 करोड़ का कारोबार
Pramod KumarANI,लाहौरWed, 25 Jan 2023 09:37 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

Pakistan Economic Crisis: बहुत ही खराब अर्थव्यवस्था और कंगाली के दौर से गुजर रहे पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान में बड़े पैमाने पर देशव्यापी बिजली संकट के कारण वहां के कपड़ा उद्योग में हाहाकार मच गया है। पाकिस्तानी न्यूज चैनल एआरवाई न्यूज ने मंगलवार को बताया कि ग्रिड विफलता की वजह से पाकिस्तान के कपड़ा उद्योग को 70 मिलियन अमेरिकी डॉलर यानी 1616 करोड़ रुपये (पाकिस्तानी रुपया) का भारी वित्तीय नुकसान पहुंचा है।

तीन प्रांतों को नेशनल ग्रिड की बिजली आपूर्ति बाधित होने के बाद से पूरे पाकिस्तान में उद्योगों को बिजली आपूर्ति रोक दी गई थी। इस बीच, ऑल पाकिस्तान टेक्सटाइल मिल्स एसोसिएशन (APTMA) के एक वरिष्ठ अधिकारी अरशद खान ने कहा कि बिजली संकट के कारण होने वाला नुकसान अरबों रुपये का हो सकता है।

एआरवाई न्यूज ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि अगर सरकार निर्बाध बिजली आपूर्ति की गारंटी देने में विफल रहती है, तो कपड़ा उद्योग को होने वाली आर्थिक क्षति अरबों रुपये तक पहुंच जाएगी। जियो न्यूज ने बताया कि कराची, लाहौर, क्वेटा और इस्लामाबाद सहित कई शहरों में सोमवार सुबह करीब 7:34 बजे बिजली गुल हो गई थी।

पाकिस्तान के ऊर्जा मंत्रालय के एक बयान के अनुसार, राष्ट्रीय ग्रिड की फ्रीक्वेंसी सुबह करीब 7.34 बजे डाउन हो गई थी, जिससे बिजली व्यवस्था में 'व्यापक खराबी'आ गई। इसके अतिरिक्त,बयान में कहा गया है कि ग्रिड स्टेशनों की मरम्मत भी हो रही थी। बयान में नागरिकों से अगले 48 घंटों तक लोड-शेडिंग का सामना करने की बात कही गई है।

प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने सोमवार को बिजली कटौती के कारण नागरिकों को हुई 'असुविधा' पर मंगलवार को खेद जताया। उन्होंने बिजली गुल होने के कारणों का पता लगाने के साथ ही जिम्मेदारी तय करने के लिए जांच के भी आदेश दिए हैं। शहबाज शरीफ ने ट्वीट किया, "मेरी सरकार की ओर से,मैं कल बिजली कटौती के कारण हमारे नागरिकों को हुई असुविधा के लिए खेद व्यक्त करना चाहता हूं। मेरे आदेश पर बिजली गुल होने के कारणों का पता लगाने के लिए जांच चल रही है। इसमें जिम्मेदारी तय की जाएगी।"

जियो टीवी के मुताबिक,बिजली की कटौती 16 घंटे से अधिक समय तक चली। यह तब हुआ,  जब ठंड के कारण खासकर इस्लामाबाद में तापमान लगभग 4 डिग्री सेल्सियस और कराची में 8 डिग्री सेल्सियस तक गिरने का अनुमान जताया गया था।

बता दें कि वस्त्र उत्पादन के क्षेत्र में पाकिस्तान दुनिया का अग्रणी देश रहा है। 2021 में यहां से  करीब 19.3 अरब डॉलर का कपड़ा निर्यात हुआ था लेकिन पिछले साल आई भीषण बाढ़ की वजह से कपास का उत्पादन नहीं हो सका और यह उद्योग संकटग्रस्त हो गया। लाखों लोगों की नौकरी चली गई। अब नकदी संकट की वजह से भारी मात्रा में माल बंदरगाहों पर अटका पड़ा है। इधर बिजली संकट ने भी कपड़ा उद्योग का जार-जार कर दिया है।