ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News विदेशसरबजीत सिंह का हत्यारा मारा गया तो खूब रोया पाक, बोला- भारत ने ऐसे ही करा दिए 4 मर्डर

सरबजीत सिंह का हत्यारा मारा गया तो खूब रोया पाक, बोला- भारत ने ऐसे ही करा दिए 4 मर्डर

पाकिस्तान की जेल में बंद रहे भारतीय नागरिक सरबजीत सिंह की हत्या करने वाले आमिर सरफराज ताम्बा की हत्या से पाकिस्तान बौखला गया है। आमिर सरफराज की हत्या लाहौर के इस्लामपुरा इलाके में की गई थी।

सरबजीत सिंह का हत्यारा मारा गया तो खूब रोया पाक, बोला- भारत ने ऐसे ही करा दिए 4 मर्डर
Surya Prakashलाइव हिन्दुस्तान,इस्लामाबादTue, 16 Apr 2024 09:46 AM
ऐप पर पढ़ें

पाकिस्तान की जेल में बंद रहे भारतीय नागरिक सरबजीत सिंह की हत्या करने वाले आमिर सरफराज ताम्बा की हत्या से पाकिस्तान बौखला गया है। आमिर सरफराज की हत्या लाहौर के इस्लामपुरा इलाके में हो गई थी और दो अज्ञात बंदूकधारियों ने घर में घुसकर उसे गोली मार दी थी। कई गोलियां लगने के चलते उसकी मौत हो गई थी। हालांकि पाकिस्तान दावा कर रहा है कि आमिर सरफराज अभी जिंदा है और उसका इलाज चल रहा है। वहीं उसने अब इस हमले का ठीकरा भारत पर फोड़ा है। पाकिस्तान के गृह मंत्री मोहसिन नकवी ने कहा कि आमिर सरफराज की हत्या में भारत का लिंक सामने आया है और इसके कुछ सबूत भी मिले हैं।

सरबजीत सिंह की 2013 में लाहौर की ही कोट लखपत जेल में हत्या हो गई थी। उनकी मौत से भारत में राह देख रहे परिवार को गहरा सदमा लगा था। इसके अलावा तमाम भारतीयों को भी इससे दुख पहुंचा था। अब पाकिस्तान की सरकार आमिर सरफराज की हत्या को सरबजीत के कत्ल के बदले से जोड़ रही है। अब तक मिली जानकारी के अनुसार लाहौर के इस्लामपुरा इलाके में स्थित अपने घर में आमिर सरफराज मौजूद था। इसी दौरान दो बंदूकधारी घर में घुस आए और उसे कई गोलियां मारीं। इससे उसकी मौत हो गई। इन लोगों के चेहरे ढके हुए थे। 

मोहसिन नकवी ने एक बार फिर से रोना रोते हुए कहा, 'भारत सीधे तौर पर पाकिस्तान में इससे पहले भी कत्ल की 2 से 4 वारदातों को अंजाम दिला चुका है। पुलिस फिलहाल इस मामले की जांच कर रही है, लेकिन हम अब भी यही मानते हैं कि भारत का ही इस घटना में भी हाथ है।' नकवी ने कहा कि इस समय सारे सबूत भारत की ओर ही इशारा कर रहे हैं। लेकिन जांच पूरी होने तक इससे ज्यादा कुछ भी कहना ठीक नहीं होगा। फिर भी इन सभी हत्याओं का पैटर्न एक जैसा ही है। सरबजीत के हत्यारे पर हमला ब्रिटिश अखबार द गार्जियन की रिपोर्ट के ठीक बाद हुआ है, जिसमें दावा किया गया था कि पाकिस्तान में कुछ हत्याएं भारत सरकार के इशारे पर की गई हैं।