DA Image
23 अक्तूबर, 2020|10:49|IST

अगली स्टोरी

पाकिस्तान में कोरोना के 1918 नए मामले, कुल मरीजों की तादाद 2.61 लाख के पार, 5500 से अधिक मौत

pakistan coronavirus cases

पाकिस्तान में शनिवार (18 जुलाई) को कोरोना वायरस संक्रमण के 1,918 मामले सामने आए जिसके बाद देश में संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 2,61,917 हो गई। स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी दी।  संक्रमण के कुल मामलों में से 1,98,509 मरीज ठीक हो चुके हैं और इस महामारी से 5,522 मरीजों की मौत हो चुकी है।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा मंत्रालय ने कहा कि अभी देश में 57,886 मरीजों का उपचार चल रहा है। मंत्रालय के अनुसार सिंध में संक्रमण के 1,11,238 मामले, पंजाब में 89,465, खैबर पख्तूनख्वा में 31,669, इस्लामाबाद में 14,504, बलूचिस्तान में 11,405, पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में 1,840 और गिलगित बल्तिस्तान में 1,796 मामले सामने आ चुके हैं। 

मंत्रालय ने कहा कि प्राधिकारियों ने पिछले चौबीस घंटे में 23,011 नमूनों की कोरोना वायरस जांच की और अब तक कुल 16,99,101 नमूनों की जांच की जा चुकी है। शुक्रवार (17 जुलाई) को प्रधानमंत्री इमरान खान ने ट्वीट कर कहा कि पाकिस्तान में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में कमी आई है। उन्होंने लोगों से ईद-उल-जुहा के अवसर पर मानक संचालन प्रक्रिया का कड़ाई से पालन करने का आग्रह किया।

कोरोना वायरस कैसे मेजबान कोशिकाओं की प्रतिरक्षा को भेदता है इसका पता चला
दूसरी ओर वैज्ञानिकों ने इस बात का पता लगाया है कि कैसे कोविड-19 बीमारी का कारक कोरोना वायरस संक्रमित कोशिकाओं में प्रोटीन के संश्लेषण को रोक देता है, और प्रभावी तरीके से रोग प्रतिरक्षा प्रणाली के एक भाग को प्रभावी रूप से अक्षम बना देता है। इस खोज से इस खतरनाक बीमारी के उपचार के विकास में मदद मिल सकती है। 'साइंस' जर्नल में छपे इस अध्ययन में दिखाया गया है कि मेजबान कोशिकाओं पर नए कोरोनावायरस सार्स-सीओवी-2 द्वारा बनाए गए 'ननस्ट्रक्चरल प्रोटीन1 (एनएसपी1) के विनाशकारी प्रभाव हो सकते हैं।

जर्मनी में म्युनिख विश्वविद्यालय के अनुसंधानकर्ताओं समेत वैज्ञानिकों के मुताबिक एनएसपी1 वायरस द्वारा इस्तेमाल किया जाने वाला मुख्य हथियार है जो मेजबान मानव कोशिकाओं में अपनी संख्या बढ़ाने और अपना प्रसार सुनिश्चित करने के लिये उपयोग किया जाता है। उन्होंने कहा कि एनएसपी1 को 2002-03 में सार्स महामारी के प्रकोप के बाद बीमारी बढ़ाने वाले कारक के तौर पर पहचाना गया। सार्स के विषाणु का अध्ययन करने वाले वैज्ञानिकों ने दिखाया था कि यह संक्रमित कोशिकाओं में प्रोटीन का संश्लेषण बाधित करता है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Pakistan Coronavirus Update Total Death 261K With 5522 Death