Wednesday, January 26, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ विदेशपाकिस्तान ने दी कोरोना वैक्सीन की बूस्टर डोज की मंजूरी, हेल्थवर्कर्स को दी जएगी सबसे पहले

पाकिस्तान ने दी कोरोना वैक्सीन की बूस्टर डोज की मंजूरी, हेल्थवर्कर्स को दी जएगी सबसे पहले

एएनआई,इस्लामाबाद।Himanshu Jha
Wed, 01 Dec 2021 03:26 PM
पाकिस्तान ने दी कोरोना वैक्सीन की बूस्टर डोज की मंजूरी, हेल्थवर्कर्स को दी जएगी सबसे पहले

इस खबर को सुनें

पाकिस्तान ने बुधवार को कोरोना वैक्सीन के बूस्टर डोज की मंजूरी दे दी। यहां यह खुराक सबसे पहले हेल्थकेयर वर्कर्स, कम इम्यूनिटी वाले लोगों और 50 साल से अधिक उम्र के लोगों को दी जाएगी। नेशनल कमांड एंड ऑपरेशन सेंटर (एनसीओसी) ने एक बयान में इसकी जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि इनके लिए यह टीके मुफ्त होंगे। आखिरी टीके की खुराक के छह महीने बाद बूस्टर डोज दी जाएगी।

आपको बता दें कि पाकिस्तान ने बूस्टर डोज की ऐसे समय में मंजूरी दी है, जब दुनिया कोरोना वायरस वायरस के नए वैरिएंट ओमिइक्रॉन को लेकर चिंतित है। 

फोरम ने जोर देकर कहा कि ओमिक्रॉन संस्करण विश्व स्तर पर तेजी से फैल रहा है और इसके खिलाफ एकमात्र सुरक्षा टीकाकरण है। इसके बाद, एनसीओसी ने एक दिसंबर यानी आजे से "अनिवार्य टीकाकरण व्यवस्था" को लागू करने के लिए सख्त कदम उठाने का फैसला किया है। प्रांतों और अधिकारियों को इसके कार्यान्वयन के संबंध में एक जीरो टॉलरेंस नीति अपनाने का निर्देश दिया है।

फोरम को बताया गया कि जिन लोगों को अभी तक दूसरी खुराक नहीं मिली है, उनसे संपर्क करने के लिए देश भर में 40 कॉल सेंटर स्थापित किए गए हैं। भविष्य में कॉल सेंटरों की संख्या बढ़ाई जाएगी।

बैठक के दौरान, प्रांतों के प्रतिनिधियों ने ओमिक्रॉन संस्करण पर ध्यान केंद्रित करने और टीकाकरण की स्थिति की जांच के साथ-साथ यात्रियों के परीक्षण के लिए हवाई अड्डों पर आवश्यक उपाय करने की आवश्यकता पर जोर दिया।

Omicron संस्करण (B.1.1.529), COVID-19 का एक नया संस्करण है। पहली बार 11 नवंबर, 2021 को बोत्सवाना में रिपोर्ट किया गया था। इसके बाद 14 नवंबर को दक्षिण अफ्रीका में इसके मामले सामने आए। इसे विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) द्वारा चिंता का एक प्रकार घोषित किया गया है।

दक्षिण अफ्रीका के लगभग सभी प्रांतों में इस प्रकार के मामलों की संख्या बढ़ती दिख रही है। COVID-19 वैरिएंट 'ओमिक्रॉन' के उभरने के बाद, संयुक्त राज्य अमेरिका, फिलीपींस, स्पेन, इज़राइल, ऑस्ट्रिया, मोरक्को सहित कई देशों ने अफ्रीका से यात्रा प्रतिबंध लगा दिए हैं। इसके अलावा, कनाडा ने पिछले 14 दिनों में दक्षिणी अफ्रीका क्षेत्र की यात्रा करने वाले विदेशी नागरिकों के प्रवेश पर भी प्रतिबंध लगा दिया है।

epaper

संबंधित खबरें