ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ विदेशएक ही परिवार के 11 सदस्य ओमिक्रॉन से संक्रमित, कोरोना ने पाकिस्तान में भी बढ़ाई चिंता

एक ही परिवार के 11 सदस्य ओमिक्रॉन से संक्रमित, कोरोना ने पाकिस्तान में भी बढ़ाई चिंता

पाकिस्तान में एक ही परिवार के 11 सदस्य कोरोना वायरस के ओमिक्रॉन वेरिएंट से पॉजिटिव मिले हैं। गुरुवार को स्थानीय मीडिया ने अपनी एक रिपोर्ट में बताया है कि यह सभी लोग कराची में पॉजिटिव मिले हैं।...

एक ही परिवार के 11 सदस्य ओमिक्रॉन से संक्रमित, कोरोना ने पाकिस्तान में भी बढ़ाई चिंता
Nishant Nandanलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 31 Dec 2021 01:08 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/

पाकिस्तान में एक ही परिवार के 11 सदस्य कोरोना वायरस के ओमिक्रॉन वेरिएंट से पॉजिटिव मिले हैं। गुरुवार को स्थानीय मीडिया ने अपनी एक रिपोर्ट में बताया है कि यह सभी लोग कराची में पॉजिटिव मिले हैं। 'Geo News' की एक रिपोर्ट के मुताबिक सभी 11 पॉजिटिव लोग लाहौर से हैं। पाकिस्तान में शुक्रवार को 515 नये कोविड-19 केस मिले हैं। दो महीनों के बाद यह पहला मौका था जब एक दिन में इतने नए केस मिले हैं। इतना ही नहीं पिछले 24 घंटे के दौरान पाकिस्तान में कोरोना वायरस ने 6 और लोगों की जान ले ली है। देश में इस संक्रमण की वजह से मौतों की कुल संख्या अब 28,927 हो चुकी है। पाकिस्तान में इस वक्त अलग-अलग अस्पतालों में कोरोना के 633 गंभीर मरीज भर्ती हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इस्लामाबाद में ओमिक्रॉन के 12 केस मिले हैं।

पांचवी लहर की चेतावनी

इससे पहले पाकिस्तान के स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को चेतावनी दी थी कि फरवरी 2022 के मध्य में देश कोविड-19 की पांचवीं लहर की चपेट में आ सकता है। अधिकारियों ने कहा था कि पाकिस्तान में प्रति दिन लगभग 3,000 से 4,000 मामले दर्ज किए जाने की संभावना है।स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि विशेष रूप से कराची, लाहौर और इस्लामाबाद में कम्युनिटी ट्रांसमिशन हो रहा है जहां अब तक 75 लोग ओमिक्रॉन से संक्रमित पाए गए हैं।

दक्षिण अफ्रीका में प्रतिबंधों में राहत

इधर दक्षिण अफ्रीका ने कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए दो वर्ष पहले लगाया गया रात का कर्फ्यू हटा दिया है। अधिकारियों ने बताया कि सभी परिणाम इस ओर इशारा करते हैं कि देश राष्ट्रीय स्तर पर कोविड-19 महामारी की चौथी लहर के चरम को पार कर गया है। राष्ट्रपति कार्यालय ने राष्ट्रीय कोरोना वायरस कमांड काउंसिल (एनसीसीसी) और राष्ट्रपति समन्वय परिषद (पीसीसी) की बृहस्पतिवार को हुई बैठकों के बाद इस बात का ऐलान किया है। 

इन जगहों पर मिली राहत

कार्यालय ने देश में वर्तमान में चल रही संक्रमण की चौथी लहर के प्रबंधन के बारे में जानकारी ली। देश में चौथी लहर में अधिकतर मामले कोरोना वायरस संक्रमण के नए स्वरूप ओमिक्रॉन के हैं। ओमिक्रॉन का पहला मामला दक्षिण अफ्रीका में ही सामने आया था। राष्ट्रपति कार्यालय ने एक बयान में कहा, ''कर्फ्यू हटाया जाएगा। लोगों की आवाजाही के समय पर अब कोई पाबंदी नहीं रहेगी।''

सार्वजनिक कार्यक्रमों में शामिल होने वाले लोगों की संख्या भी बढ़ा दी गई है। बयान में कहा गया, ''बंद स्थानों पर एक हजार और खुले स्थानों पर दो हजार से ज्यादा लोगों को इकट्ठा होने की अनुमति नहीं दी जाएगी। जहां समारोह स्थल छोटे हैं और जहां उचित सामाजिक दूरी का पालन करते हुए इतने लोग शामिल नहीं हो सकते, वहां समारोह स्थल की क्षमता से आधे लोग ही आमंत्रित किए जाएंगे। अन्य पाबंदिया पहले की ही तरह जारी रहेंगी।'' 
 

epaper