DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति जरदारी के खिलाफ भ्रष्टाचार का नया केस, फर्जी बैक खातों के जरिये अरबों रुपए का लेनदेन

asif ali zardari

पाकिस्तान की भ्रष्टाचार निरोधक संस्था ने एक कंपनी को फर्जी बैक खातों के जरिये अरबों रुपये हस्तांतरित करने में कथित रूप से शामिल रहने के मामले में शुक्रवार को पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी के खिलाफ भ्रष्टाचार का नया मामला दर्ज किया। कंपनी पर जरदारी और उनके बेटे बिलावल भुट्टो जरदारी का मालिकाना हक था।

नेशनल अकाउंटेबिलिटी ब्यूरो (एनएबी) के अनुसार पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के सह-अध्यक्ष जरदारी ने 1989 में एक सहयोगी की मदद से अवैध तरीके से कराची की रियल इस्टेट कंपनी पार्क लेन इस्टेट कंपनी प्राइवेट लिमिटेड खरीदी थी। जरदारी और बिलावल 2009 में कंपनी के शेयरधारक बन गये।

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी 13 दिन की हिरासत में

एनएबी ने दावा किया कि कंपनी को फर्जी बैंक खातों के माध्यम से अरबों रुपये हस्तांतरित किये गये। कंपनी ने जरदारी के राजनीतिक प्रभाव का इस्तेमाल करते हुए बैंकों से अरबों रुपये का लोन भी लिया।

देश की पहली महिल प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो के 63 वर्षीय पति को एनएबी के अधिकारियों ने एक जुलाई को पार्क लेन मामले में गिरफ्तार किया था। इस्लामाबाद उच्च न्यायालय द्वारा फर्जी खाता मामले में गिरफ्तारी पूर्व जमानत अर्जी खारिज किये जाने के बाद से वह 10 जून से ही एनएबी की हिरासत में थे। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Pakistab anti graft body files new graft case against former president Asif Ali Zardari