ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News विदेशबिना हिचके दुश्मन का कर दो सफाया, नए साल पर तानाशाह किम जोंग ने भरी हुंकार; किसे ललकारा

बिना हिचके दुश्मन का कर दो सफाया, नए साल पर तानाशाह किम जोंग ने भरी हुंकार; किसे ललकारा

सेना के कमांडिंग अधिकारियों के साथ रविवार को बैठक हुई थी। इस दौरान तानाशाह किम जोंग ने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा की रक्षा के खातिर सबसे कीमती हथियार को हमले के लिए तैयार रखना जरूरी है।

बिना हिचके दुश्मन का कर दो सफाया, नए साल पर तानाशाह किम जोंग ने भरी हुंकार; किसे ललकारा
Niteesh Kumarएजेंसी,सियोलMon, 01 Jan 2024 02:42 PM
ऐप पर पढ़ें

उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन ने एक बार फिर से अमेरिका और दक्षिण कोरिया के खिलाफ हुंकार भरी है। उसने अपनी सेना को आदेश दिया कि अगर यूएस और साउध कोरिया उकसावे की कार्रवाई करते हैं तो उनका नामोनिशान मिटा दो। सरकारी मीडिया ने सोमवार को यह जानकारी दी। नवंबर में अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव से पहले उत्तर कोरिया की ओर से इस साल हथियारों के परीक्षण में और तेजी लाई जा सकती है। बीते हफ्ते सत्तारूढ़ दल की 5 दिवसीय बैठक हुई थी। इस दौरान किम जोंग ने कहा कि वह इस साल 3 और सैन्य जासूसी उपग्रह का प्रक्षेपण करेगा, अधिक परमाणु हथियारों का उत्पादन करेगा और हमला करने वाले ड्रोन तैयार करने वाला है। जानकारों का कहना है कि यह प्रयास भविष्य में अमेरिका पर कूटनीति दबाव बढ़ाने के लिए है।

सेना के कमांडिंग अधिकारियों के साथ रविवार को बैठक हुई थी। इस दौरान तानाशाह किम ने देश के परमाणु हथियारों के संदर्भ में कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा की रक्षा के खातिर सबसे कीमती हथियार को हमले के लिए तैयार रखना जरूरी है। आधिकारिक कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी (KCNA) के अनुसार, किम ने इस बात पर जोर दिया अगर वे (अमेरिका, दक्षिण कोरिया) उत्तर कोरिया के खिलाफ उकसावे की कार्रवाई करते हैं तो हम चुप नहीं बैठेंगे। उसने कहा कि ऐसी स्थिति में हमारी सेना को बिना हिचकिचाए अपने सभी प्रमुख संसाधनों को जुटाकर उन्हें पूरी तरह से खत्म करने के लिए जवाबी हमला करना चाहिए।

चीन और उत्तर कोरिया में बढ़ती दोस्ती 
दूसरी ओर, चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और डेमोक्रेटिक पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ कोरिया के शीर्ष नेता किम जोंग ने 2024 को चीन-डीपीआरके मैत्री वर्ष के रूप में नामित किया। कम्युनस्टि पार्टी ऑफ चाइना सेंट्रल कमेटी के महासचिव जिनपिंग, वर्कर्स पार्टी ऑफ कोरिया के महासचिव और डीपीआरके के अध्यक्ष श्री जोंग ने नए साल के शुभकामना संदेशों के आदान-प्रदान में यह घोषणा की। जिनपिंग ने कहा कि चीन-डीपीआरके का दोस्ताना संबंध दोनों पार्टियों और दोनों देशों के नेताओं की पुरानी पीढ़ी की ओर से बनाया गया है। यह दोस्ती समय के साथ और मजबूत हुई है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें