DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   विदेश  ›  दुबला हो गया है उत्तर कोरिया का तानाशाही शासक किम जोंग उन, करीब 20 किलो घटाया वजन
विदेश

दुबला हो गया है उत्तर कोरिया का तानाशाही शासक किम जोंग उन, करीब 20 किलो घटाया वजन

एजेंसी,सियोल।Published By: Himanshu Jha
Wed, 16 Jun 2021 02:30 PM
दुबला हो गया है उत्तर कोरिया का तानाशाही शासक किम जोंग उन, करीब 20 किलो घटाया वजन

उत्तर कोरिया का तानाशाही शासक किम जोंग उन का स्वास्थ्य लंबे समय से प्रतिद्वंद्वी दक्षिण कोरिया में चर्चा का केंद्र रहा है। आपको बता दें कि दक्षिण कोरिया किम की 12 लाख मजबूत सेना और परमाणु-सशस्त्र मिसाइलों के बढ़ते शस्त्रागार की छाया में रहता है। क्या किम वजन और भी बढ़ गया है? क्या वह अपेक्षाकृत कम चलने के बाद सांस के लिए संघर्ष कर रहा है? किम महत्वपूर्ण राज्य की सालगिरह समारोह में क्यों नहीं शामिल हुआ? इस तरह के सवाल लगातार उठते रहते हैं।

फिर एकबार 37 वर्षीय किम अपने स्वास्थ्य के बारे में नई अटकलों का सामना कर रहा है। लेकिन इस बार ऐसा इसलिए हो रहा है कि क्योंकि वह पहले से ज्यादा दुबला है।

सियोल, वाशिंगटन, टोक्यो और अन्य विश्व की राजधानियों में किम का स्वास्थ्य मायने रखता है क्योंकि उसने सार्वजनिक रूप से अपने उत्तराधिकारी का अभिषेक नहीं किया है। यदि वह अक्षम हो जाता है तो उसका उत्तराधिकारी ही संयुक्त राज्य अमेरिका और उसके सहयोगियों को लक्षित करने वाले एक उन्नत परमाणु कार्यक्रम को नियंत्रित करेगा। उत्तर कोरिया अपने नेतृत्व के आंतरिक कामकाज के बारे में कभी नहीं खुला। पिछले एक साल में कोरोनो वायरस महामारी से बचाने के लिए खुद को और भी सख्त कर लिया है।

हाल ही में मीडिया में किम की कुछ तस्वीरें देखने को मिलीं। तस्वीरों में वह पहले की तुलना में काफी पतला दिख रहा है। उसकी कलाई पर एक फैंसी घड़ी है और उसका चेहरा पहले की तुलना में पतला है। कुछ पर्यवेक्षकों का कहना है कि किम जो लगभग 170 सेंटीमीटर (5 फीट, 8 इंच) लंबा है और जिसका वजन पहले 140 किलोग्राम (308 पाउंड) था, ने लगभग 10-20 किलोग्राम (22-44 पाउंड) वजन कम किया है। 

सियोल के कोरिया इंस्टीट्यूट फॉर नेशनल यूनिफिकेशन के एक वरिष्ठ विश्लेषक होंग मिन के अनुसार, किम का स्पष्ट वजन कम होना बीमारी के संकेत के बजाय उसके स्वास्थ्य में सुधार का प्रयास है। होंग ने कहा, "अगर वह स्वास्थ्य समस्याओं का सामना कर रहे होते, तो वे वर्कर्स पार्टी की केंद्रीय समिति की पूर्ण बैठक बुलाने के लिए सार्वजनिक रूप से सामने नहीं आते।" 

किम के परिवार में लोग काफी शराब पीते और धूम्रपान करते हैं। उनके पुर्वजों को दिल की बीमारी रही है। किम के पिता और दादा, जिन्होंने उनसे पहले उत्तर कोरिया पर शासन किया था, दोनों की हृदय रोग से मृत्यु हुई थी। विशेषज्ञों ने कहा है कि किम का वजन हृदय रोगों की संभावना को बढ़ा सकता है।

दक्षिण कोरिया के एकीकरण मंत्रालय ने कहा कि उसके पास किम के स्वास्थ्य के बारे में साझा करने के लिए कोई जानकारी नहीं है। मीडिया आउटलेट्स ने किम की पिछली और वर्तमान उपस्थितियों की तस्वीरों को प्रकाशित करने के साथ, दक्षिण कोरिया में उसके पतले लुक पर ध्यान केंद्रित किया है।

सियोल स्थित इंस्टीट्यूट ऑफ नॉर्थ कोरियन स्टडीज में सेओ यू-सोक ने कहा कि किम ने भले ही शीर्ष अधिकारियों के आग्रह पर देश के दूसरे सबसे ताकतवर पद की स्थापना की अनुमति दी हो, लेकिन फिर भी उसने किसी का नाम नहीं लिया है क्योंकि इससे सत्ता पर उसकी पकड़ ढीली हो सकती है।

संबंधित खबरें