no conclusion reached between india and pakistan at indus water treaty says world bank - सिंधु जल संधि: वार्ता में नहीं हो पाया कोई समझौता- वर्ल्ड बैंक DA Image
14 दिसंबर, 2019|3:31|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सिंधु जल संधि: वार्ता में नहीं हो पाया कोई समझौता- वर्ल्ड बैंक

sindhu river

सिंधु जल संधि पर भारत एवं पाकिस्तान के बीच हाल में हुई बातचीत के बाद वर्ल्ड बैंक ने कहा है कि, 'किसी समझौते पर नहीं पहुंचा जा सका है।' वर्ल्ड बैंक ने इस बात पर भरोसा दिलाया है कि दोनों देश इस मामले को सौहार्दपूर्ण तरीके से सुलझाने के लिए काम करना जारी रखेंगे।

वर्ल्ड बैंक ने सिंधु जल संधि (आईडब्ल्यूटी) के तहत किशनगंगा और रातले पनबिजली ऊर्जा संयंत्रों के तकनीकी मामलों पर दोनों दक्षिण एशियाई पड़ोसी देशों के बीच सचिव स्तर की वार्ता के बाद कहा, 'दोनों देशों और वर्ल्ड बैंक ने इन वार्ताओं की सराहना की और संधि की रक्षा की अपनी प्रतिबद्धता की दोबारा से पुष्टि की।' बता दें कि यह दो दिवसीय वार्ता 14 और 15 सितंबर को वर्ल्ड बैंक के मुख्यालय पर हुई।

विश्व बैंक ने अपने बयान में कहा, वर्ल्ड बैंक दोनों देशों की मदद करना जारी रखते हुए संधि के तहत अपनी जिम्मेदारियों को सदभावना के साथ पूरा करने और पूरी निष्पक्षता एवं पारदर्शिता के साथ काम करने के लिए प्रतिबद्ध है।  

ज्ञात हो कि पाकिस्तान ने वर्ल्ड बैंक की मदद से नौ वर्षों तक चली बातचीत के बाद 1960 में सिंधु जल संधि पर हस्ताक्षर किए थे। इन वार्ताओं में भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतत्व केंद्रीय जल संसाधन सचिव अमरजीत सिंह ने किया। इस प्रतिनिधिमंडल में विदेश मंत्रालय, ऊर्जा, भारत के जल संधि आयुक्त और केंद्रीय जल आयोग के भी प्रतिनिधि थे।

पाकिस्तानी प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व जल संसाधन डिविजन के सचिव आरिफ अहमद खान ने किया। व​हीं इसके अलावा जल एवं ऊर्जा सचिव यूसुफ नसीम खोखर, भारत जल संधि के उच्चायुक्त मिर्जा आसिफ बेग और जल संयुक्त सचिव सैयद मेहर अली शाह ने भी इस वार्ता में पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:no conclusion reached between india and pakistan at indus water treaty says world bank