DA Image
3 मार्च, 2021|8:33|IST

अगली स्टोरी

नेपाल में जारी है सियासी खींचतान, आरोपों का जवाब देने को केपी ओली ने 10 दिन का समय मांगा

nepal prime minister khadga prasad oli had taken the first step to break the ice with new delhi in a

नेपाल की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ नेपाल (सीपीएन) के भीतर खींचतान जारी है। नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी के केंद्रीय सचिवालय की बहुप्रतीक्षित महत्वपूर्ण बैठक बुधवार को हुई, लेकिन गतिरोध दूर नहीं हो सका। पार्टी परामर्श के बगैर सरकार चलाने के पुष्प कमल दहल प्रचंड के आरोपों के जवाब में प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने अलग राजनीतिक दस्तावेज पेश करने के लिए 10 दिन का समय मांगा है। 

सीपीएन के प्रवक्ता नारायणकाजी श्रेष्ठ ने बताया कि प्रधानमंत्री ओली के बालुवातार स्थित आधिकारिक निवास पर जैसे ही बैठक शुरू हुई, ओली ने सचिवालय के सदस्यों से कहा कि वह 28 नवंबर की बैठक में अलग राजनीतिक दस्तावेश पेश करेंगे। 

बैठक में पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष प्रचंड द्वारा दिए गए 19 पन्नों की राजनीतिक रिपोर्ट पर चर्चा होने की संभावना थी। ओली और उनके प्रतिद्वंद्वी प्रचंड के बीच 31 अक्टूबर को बैठक में तथा सीपीएन में मतभेद सामने आने के बाद यह बैठक हुई थी। ओली ने मौजूदा सत्ता संघर्ष के समाधान के लिए केंद्रीय सचिवालय की बैठक बुलाने के प्रचंड के अनुरोध को भी ठुकरा दिया था।

ओली और प्रचंड ने सत्ता को लेकर समझौते पर सहमत होने के बाद सितंबर में अपने मतभेद दूर किए थे, जिससे पार्टी में महीनों से चला आ रहा गतिरोध खत्म हो गया था। सचिवालय के सभी नौ सदस्य इस अहम बैठक में मौजूद थे। प्रचंड की पहल पर इस बैठक का आयोजन हुआ। इससे पहले ओली ने प्रचंड से रिपोर्ट वापस लेने का आग्रह करते हुए कहा था कि यह उनके लिए स्वीकार्य नहीं है। 
         

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Nepal ruling party gives PM K P Sharma Oli 10 more days to respond to allegations