अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जेल जाने की परवाह नहीं, पत्नी को अल्लाह के भरोसे छोड़कर पाक लौट रहा हूं: नवाज शरीफ

Nawaz Sharif

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कहा है कि वह अपनी बीमार पत्नी को लंदन में अल्लाह के भरोसे छोड़ रहे हैं। उन्होंने कहा, मैं जेल में डाले जाने या फांसी पर चढ़ाए जाने की परवाह किए बिना पाकिस्तान लौट रहा हूं। उधर, भ्रष्टाचार रोधी अदालत ने नवाज शरीफ के खिलाफ भ्रष्टाचार के शेष दो मामलों को किसी और जवाबदेही अदालत में स्थानांतरित करने की उनकी याचिका गुरुवार को खारिज कर दी गई। 

नवाज के शुक्रवार को पाकिस्तान लौटने की उम्मीद है। पनामा पेपर लीक के बाद उनके खिलाफ चल रहे भ्रष्टाचार के तीन मामलों में से एक (एवेनफील्ड संपत्ति मामला) में उन्हें कुछ ही दिन पहले एक भ्रष्टाचार रोधी अदालत ने 11 साल कैद की सजा सुनाई है। शरीफ ने कहा कि इस बात से दुखी हूं कि बीमार पत्नी को वेंटीलेटर पर छोड़ना पड़ रहा है। उन्होंने कहा, मैं वोट को सम्मान देने के वादे को पूरा करने मरियम को लेकर लौट रहा हूं। के लिए लौट रहा हूं।  

देश में 25 जुलाई को आम चुनाव है। पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा कि वह अब नहीं रुकेंगे, चाहे उन्हें जेल में डाल दिया जाए या फांसी दे दी जाए। शरीफ ने एवेनफील्ड मामले पर टिप्पणी करते हुए कहा कि फैसले में यह लिखा हुआ है कि उन्हें भ्रष्टाचार के आरोपों से दोषमुक्त कर दिया गया है। उन्होंने कहा, मैं देश का कर्ज चुकाने आ रहा हूं इसने मुझे तीन बार प्रधानमंत्री चुना। उन्होंने कहा कि पूर्व तानाशाह जनरल परवेज मुशर्रफ फरार हैं और उन्हें वापस लाने की किसी के पास ताकत नहीं है। 

पीएमएल-एन कार्यकर्ताओं पर कारवाई
 पाकिस्तान में प्रशासन ने पाकिस्तान मुस्लिम लीग- नवाज (पीएमएल-एन) कार्यकर्ताओं के खिलाफ बड़े पैमाने पर कारवाई शुरू की है। करीब 300 कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है। पीएमएल-एन की अपने शीर्ष नेता और पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की लंदन से स्वदेश वापसी पर हवाई अड्डे पर बड़ी रैली की तैयारी के मद्देनजर यह कारवाई शुरू की गई। 

ये भी पढ़ेंः विदेश की सभी खबरों के लिए क्लिक करें

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Nawaz Sharif is returning to Pak after leaving his wife in london