ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ विदेश50 साल बाद फिर चांद पर पड़ेंगे इंसान के कदम? NASA ने लॉन्च किया आर्टेमिस-1

50 साल बाद फिर चांद पर पड़ेंगे इंसान के कदम? NASA ने लॉन्च किया आर्टेमिस-1

अमेरिका ने आर्टेमिस-1 अभियान के तहत लॉन्चिंग की है। यह स्पेसक्राफ्ट चांद के 42 दिनों तक चक्कर लगाएगा और फिर लौट आएगा। चांद पर एक बार फिर से मानव को भेजने की तैयारी है।

50 साल बाद फिर चांद पर पड़ेंगे इंसान के कदम? NASA ने लॉन्च किया आर्टेमिस-1
Ankit Ojhaएजेंसियां,वॉशिंगटनWed, 16 Nov 2022 07:11 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

अमेरिका एक बार फिर चांद पर कदम रखने की तैयारी कर रहा है। इस दिशा में NASA ने बड़ा कदम उठाया है। NASA ने बुधवार को आर्टेमिस-1 मिशन के तहत ओरियॉन स्पेसशिप को लॉन्च किया है। यह स्पेसशिप 42 दिनों में चंद्रमा का चक्कर लगाकर वापस आ जाएगा। इस लॉन्चिंग से पहले निशन को तकनीकी खराबी की वजह से 10 मिनट के लिए रोक दिया गया था। इससे पहले भी तकनीकी खामी की वजह से दो बार लॉन्चिंग रोकी गई थी। 

माइथोलॉजी के हिसाब से आर्टेमिस एक देवी का नाम है। आधी सदी से अपोलो मिशन के बाद से अमेरिका ने चांद पर कदम नहीं रखे हैं। इससे पहले 29 अगस्त और 3 सितंबर को लॉन्चिंग की कोशिश हुई थी। NASA के मुताबिक निकोल तूफान की वजह से लॉन्चिंग पैड को नुकसान पहुंचा था। इस वजह से लॉन्चिंग रोकनी पड़ी थी। बताया जा रहा था कि स्पेसक्राफ्ट के पार्ट्स ढीले हो गए थे और इस वजह से हाइड्रोजन लीक होने लगा था। 

बता दें कि आर्टेमिस-1 एक तरह से मानव को चांद पर भेजने का पहला चरण है। इस मिशन को तीन भाग में चरणबद्ध किया गया है। आर्टेमिस-1 के बाद आर्टेमिस-2 और आर्टेमिस-3 का नंबर आएगा। यह मिशन सफल होता है तो तीन साल बाद एक बार फिर से अमेरिका मानव को चांद पर भेजेगा। 
 


अपोलो मिशन ने कैसे बदल दी थी दुनिया
अमेरिका ने जब अपोलो मिशन को अंजाम दिया तो पूरी दुनिया का अंतरिक्ष और सौर मंडल के प्रति सोच बदल गई। वैज्ञानिकों ने बताया कि चांद की उम्र 3 अरब साल है। नासा का कहना हैकि ओरियन चंद्रा की सतह के 96 किलोमीटर पास से गुजरेगा। इसके बाद वह कक्षा में एक सैटलाइट छोड़ेगा। कुछ दिनों के बाद यह वापस आकर प्रशांत महासागर में आ गिरेगा।