Monday, January 17, 2022
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ विदेशकोरोना का ओमीक्रॉन वेरिएंट: मुंबई एयरपोर्ट पर नए प्रतिबंध जल्द, SA से आने वाले होंगे क्वारंटाइन

कोरोना का ओमीक्रॉन वेरिएंट: मुंबई एयरपोर्ट पर नए प्रतिबंध जल्द, SA से आने वाले होंगे क्वारंटाइन

एएनआई,मुंबईGaurav Kala
Sat, 27 Nov 2021 05:23 PM
कोरोना का ओमीक्रॉन वेरिएंट: मुंबई एयरपोर्ट पर नए प्रतिबंध जल्द, SA से आने वाले होंगे क्वारंटाइन

इस खबर को सुनें

कोरोना का नया ओमीक्रॉन वेरिएंट दुनियाभर के कई देशों में कहर बरपा रहा है। खासकर दक्षिण अफ्रीका में इसके केस लगातार बढ़ रहे हैं। मुंबई मेयर किशोरी पेडनेकर ने शनिवार को घोषणा की कि दक्षिण अफ्रीका से लौटने वाले प्रत्येक व्यक्ति को शहर में आने पर क्वारंटाइन किया जाएगा और उनके नमूने टेस्ट के लिए लैब भेजे जाएंगे। अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए मुंबई हवाई अड्डे पर नए प्रतिबंध जल्द ही लागू होने की संभावना है।

वर्तमान में दक्षिण अफ्रीका और मुंबई के बीच कोई सीधी उड़ान नहीं है। मुंबई के नागरिक निकाय के सार्वजनिक स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त नगर आयुक्त प्रभारी सुरेश काकानी ने कहा, "बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) हवाईअड्डे के अधिकारियों के साथ योजना बन रही है, ताकि मुंबई आने वाले अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की ट्रैवल हिस्ट्री की जांच की जा सके। इमिग्रेशन काउंटर पर उनके पासपोर्ट के आधार पर टिकटों की जांच की जा सके, इसे तुरंत प्रभावी बनाया जाएगा। वर्तमान में मुंबई में आने वाले किसी भी अंतरराष्ट्रीय यात्री के लिए क्वारंटाइन अनिवार्य नहीं है।

कोरोना वायरस के नए संस्करण ओमीक्रॉन वेरिएंट से निपटने के तरीकों पर निर्णय लेने के लिए नागरिक स्वास्थ्य विभाग शनिवार शाम को एक बैठक भी करेगा। ओमीक्रॉन को विश्व स्वास्थ्य संगठन कोरोना के नए वेरिएंट के रूप में चिन्हित कर चुका है।

अभी मुंबई में आने या जाने वाले अंतरराष्ट्रीय यात्रियों (बीएमसी द्वारा जारी) के लिए 1 सितंबर (नवीनतम) को जारी बीएमसी के परिपत्र को संदर्भित किया जा रहा है। इस आदेश पर अपडेट शनिवार रात या रविवार की सुबह बीएमसी द्वारा किया जाएगा।

ब्रिटेन समेत कई देशों के यात्रियों के नए नियम

उपरोक्त निर्णय में कहा गया है कि मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचने पर ब्रिटेन, यूरोप, मध्य पूर्व के देशों, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, बांग्लादेश, बोत्सवाना, चीन, मॉरीशस, न्यूजीलैंड और जिम्बाब्वे से आने या जाने वाले यात्रियों को अनिवार्य खुद से RTPCR टेस्ट देना होगा।

आरटीपीसीआर टेस्ट सभी के लिए अनिवार्य

अन्य देशों से मुंबई की यात्रा करने वाले अंतरराष्ट्रीय यात्री जो मुंबई हवाई अड्डे से बाहर निकल रहे हैं या मुंबई हवाई अड्डे से कनेक्टिंग फ्लाइट ले रहे हैं, उन्हें मुंबई हवाई अड्डे पर यात्रा से 72 घंटे के भीतर एक नेगेटिव आरटीपीसीआर रिपोर्ट तैयार करनी होगी। ऐसे यात्रियों के लिए मुंबई हवाई अड्डे पर आगमन पर RTPCR परीक्षण अनिवार्य नहीं है। इस आदेश के अनुसार किसी भी अंतरराष्ट्रीय यात्री के लिए संस्थागत क्वारंटाइन की आवश्यकता नहीं है। सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों को 14 दिनों के लिए होम क्वारंटाइन के लिए अनिवार्य स्व-घोषणा प्रस्तुत करनी होगी।

वर्तमान में भारत केवल उन्हीं देशों से उड़ानों की अनुमति दे रहा है जिनके साथ उसका एयर बबल समझौता है। ओमीक्रॉन वेरिएंट से ग्रसित दक्षिण अफ्रीका उनमें शामिल नहीं है। केंद्र द्वारा 26 नवंबर को जारी एक सर्कुलर में 'एट रिस्क' श्रेणी से संबंधित देशों की सूची की पहचान की गई है। 15 दिसंबर से इन देशों से आने वाले यात्रियों को भारत पहुंचने पर अतिरिक्त सावधानी बरतनी होगी, जिसमें आरटीपीसीआर टेस्ट भी शामिल है। इस सूची में दक्षिण अफ्रीका, बोत्सवाना और यूनाइटेड किंगडम और अन्य यूरोपीय देश भी शामिल हैं।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें