ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News विदेश G7 में हिस्सा लेने इटली जा सकते हैं मोदी, शी जिनपिंग से भी जल्द हो सकती मुलाकात

G7 में हिस्सा लेने इटली जा सकते हैं मोदी, शी जिनपिंग से भी जल्द हो सकती मुलाकात

प्रधानमंत्री मोदी तीसरी बार कार्यभार संभालने के बाद जल्द ही विदेश यात्रा पर भी जायेंगे। मोदी 2024 में G7 शिखर सम्मेलन के लिए इटली और SCO शिखर सम्मेलन के लिए कजाकिस्तान और जा सकते हैं।

  G7 में हिस्सा लेने इटली जा सकते हैं मोदी, शी जिनपिंग से भी जल्द हो सकती मुलाकात
Jagritiलाइव हिंदुस्तान,नई दिल्लीTue, 11 Jun 2024 11:59 AM
ऐप पर पढ़ें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने तीसरे कार्यकाल में जल्द ही विदेश यात्राएं भी शुरू कर सकते हैं। इसकी शुरुआत 14 जून को G7 शिखर सम्मेलन के लिए इटली की यात्रा से होने की उम्मीद है जहां उन्हें आमंत्रित किया गया है। इसके बाद मोदी एससीओ शिखर सम्मेलन (3-4 जुलाई) के लिए कजाकिस्तान जा सकते हैं।वहीं सितबर में बिम्सटेक बैठक में भाग लेने के लिए मोदी थाइलैंड, अक्टूबर में ब्रिक्स शिखर सम्मेलन के लिए रूस, नवंबर में G20 शिखर सम्मेलन के लिए ब्राजील और यूनाइटेड नेशन जनरल असेंबली के शिखर सम्मेलन के लिए सितंबर में न्यूयॉर्क जा सकते हैं। G7 शिखर सम्मेलन के दौरान मोदी मेजबान इटली के अलावा अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन और जापान, यूके और फ्रांस सहित जी7 के दूसरे राष्ट्र प्रमुखों से मुलाकात कर सकते हैं।

इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक प्रधानमंत्री इस साल के अंत में वार्षिक शिखर सम्मेलन के लिए जापान की यात्रा भी कर सकते हैं। साथ ही उनके अफ्रीका की यात्रा की भी योजना बनाई जा रही है। वहीं रूस के कज़ान में ब्रिक्स शिखर सम्मेलन के दौरान रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ वार्षिक शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने की भी उम्मीद है। सभी की निगाहें एससीओ शिखर सम्मेलन के दौरान मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच संभावित बैठक पर टिकी होंगी। मोदी और शी जिनपिंग की आखिरी मुलाकात पिछले साल अगस्त में दक्षिण अफ्रीका में शिखर सम्मेलन के दौरान हुई थी।

इन देशों की मेजबानी करेगा भारत

इस साल मोदी जिन नेताओं की मेजबानी करने वाले हैं, उनमें वियतनाम और मलेशिया के प्रधानमंत्री शामिल हैं। वह इस साल के अंत में लाओस में भारत-आसियान शिखर सम्मेलन और पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में भी भाग ले सकते हैं। इसके अलावा भारत-जर्मनी इंटर गवर्मेंटल कमीशन की बैठक भी इस साल के अंत में यहीं आयोजित की जाएगी। यूरोप, कजाकिस्तान, रूस और ब्राजील में विभिन्न शिखर सम्मेलनों के दौरान मोदी के कई नेताओं से मिलने की भी उम्मीद है। इस साल भारत के यूरोप, अफ्रीका और चिली सहित लैटिन अमेरिका के नेताओं की मेजबानी करने की भी उम्मीद है। साल के अंत में भारत में क्वाड शिखर सम्मेलन की भी योजना बनाई जा रही है।