Khalistan Supporter Out From Kartarpur Committee After Narendra Modi Govt Pressure - असर लाया मोदी सरकार का दबाव, खालिस्तान समर्थक करतारपुर कमेटी से बाहर DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

असर लाया मोदी सरकार का दबाव, खालिस्तान समर्थक करतारपुर कमेटी से बाहर

kartarpur sahib

करतारपुर कॉरिडोर पर भारत-पाकिस्तान के अधिकारियों के बीच रविवार को होने वाली वार्ता से पहले भारत के दबाव के चलते इमरान सरकार ने अहम फैसला लिया है। पाकिस्तान ने मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद के खास गुर्गे और खालिस्तान समर्थक गोपाल सिंह चावला और तीन अन्य को पाक सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी से हटा दिया है।

गोपाल सिंह चावला अब करतारपुर कॉरिडोर कमेटी के भी सदस्य नहीं है। समिति में खालिस्तान समर्थक गोपाल सिंह चावला को शामिल करने पर भारत ने कड़ा ऐतराज जताया था। भारत ने नाराजगी व्यक्त करते हुए दो अप्रैल को करतारपुर कॉरिडोर पर होने वाली बैठक को भी रद्द कर दिया था।

करतारपुर गलियारे को लेकर अटारी-वाघा सीमा पर भारत-पाकिस्तान की बैठक आज

इसके बाद रविवार को अटारी-वाघा बॉर्डर पर शुरू होने वाली बैठक से पहले पाकिस्तान सरकार ने गोपाल सिंह चावला, मनिंदर सिंह, तारा सिंह, बिशन सिंह और कुलजीत सिंह को इस कमेटी से बाहर का रास्ता दिखा दिया है। चावला के आतंकी हाफिज सईद और जैश सरगना मसूद अजहर का खास है। पाकिस्तान आर्मी और आईएसआई का भी नजदीकी है।

अफसरों की बैठक आज
भारत-पाक के अफसरों के बीच रविवार को बैठक होगी। बातचीत के बाद दोनों देश अलग-अलग प्रेस क्रॉन्फ्रेंस करेंगे। भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव (आंतरिक सुरक्षा) एससीएल दास और विदेश मंत्रालय के संयुक्त सचिव (पाकिस्तान, अफगानिस्तान और ईरान) दीपक मित्तल करेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Khalistan Supporter Out From Kartarpur Committee After Narendra Modi Govt Pressure