ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News विदेशसत्ता संभालने से पहले ही जो बाइडेन ने तैयार की अपनी टीम

सत्ता संभालने से पहले ही जो बाइडेन ने तैयार की अपनी टीम

कैपिटल हिंसा के बाद अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप सत्ता छोड़ने को तैयार हो गए। वह 20 जनवरी को नव-निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन को सत्ता सौंप देंगे। बाइडेन सत्ता संभालने की तैयारियों में जुट गए...

सत्ता संभालने से पहले ही जो बाइडेन ने तैयार की अपनी टीम
एजेंसी,वॉशिंगटनSun, 10 Jan 2021 12:46 AM
ऐप पर पढ़ें

कैपिटल हिंसा के बाद अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप सत्ता छोड़ने को तैयार हो गए। वह 20 जनवरी को नव-निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन को सत्ता सौंप देंगे। बाइडेन सत्ता संभालने की तैयारियों में जुट गए हैं। बाइडेन ने अपनी टीम लगभग तैयार कर ली है। उन्होंने कहा कि मुझे यह बताते हुए गर्व हो रहा है कि हमने कैबिनेट के नामों को तय कर लिया है।

बाइडेन ने कहा, ये अब तक की पहली ऐसी कैबिनेट होगी, जिसमें महिला और पुरुष दोनों की समान भागीदारी होगी। वहीं, ट्रंप के खिलाफ महाभियोग लाने की तैयारी के सवाल पर जो बाइडेन ने कहा कि ये फैसला कांग्रेस करेगी। मुझे अपने काम पर ध्यान केंद्रित करना है। कोरोना वैक्सीन के सवाल पर बाइडेन ने कहा कि टीके हमें उम्मीद देते हैं, लेकिन इसे लागू करना एक चुनौती की तरह है। इस चुनौतीपूर्ण काम को अंजाम देना एक देश के तौर पर अब तक की सबसे बड़ी चुनौती होगा।

समारोह में न आना एक अच्छी बात
शपथ ग्रहण समारोह में ट्रंप के नहीं आने के मुद्दे पर बाइडेन ने तंज भरे अंदाज में कहा- कुछ ही ऐसी चीजें हैं, जिस पर हम दोनों ही सहमत हैं। उनका समारोह में न आना एक अच्छी बात है।

डोनाल्ड ट्रंप अमेरिकी इतिहास के सबसे अयोग्य राष्ट्रपति: जो बाइडेन
अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा कि डोनाल्ड ट्रंप अमेरिकी इतिहास में सबसे अयोग्य राष्ट्रपति हैं। ट्रंप के खिलाफ महाभियोग लाने या उनके कार्यकाल के बचे हुए 12 दिन से पहले उन्हें हटाने संबंधी प्रश्न पर बाइडेन ने कहा कि 20 जनवरी को उनका पद संभालना ही ट्रंप को हटाने का सबसे त्वरित तरीका है। बाइडेन ने डेलावेयर में पत्रकारों से कहा, ''मैं एक वर्ष से भी ज्यादा वक्त से कहता आ रहा हूं कि वह (ट्रंप) इस पद पर रहने के काबिल नहीं हैं। वह अमेरिकी इतिहास के सबसे अयोग्य राष्ट्रपति हैं। लिहाजा उन्हें हटाने के विचार का मेरे हिसाब से कोई मतलब नहीं है।''