अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ड्राइवरलेस कार से 190 रुपये में होगा 1 किलोमीटर का सफर

driverless car

जापान में 2020 ओलंपिक को देखते हुए अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं। इसी कड़ी में उसने अपने यहां बिना ड्राइवर वाली कारों की भी शुरुआत कर दी है। अहम बात यह है कि दुनिया में भले ही इन कारों की टेक्‍नोलॉजी पर काम चल रहा हो मगर जापान ने अपने यहां शुरुआत कर के इस तकनीक में बाजी मार ली है। शुरुआत में इसके लिए 5.3 किमी का रूट तय किया गया है।

हालांकि अभी ड्राइवरलेस कारों का सफर काफी महंगा लग रहा है। एक तरफ का किराया 1500 येन (करीब 950 रुपए) तय किया गया है। मतलब 1 किलोमीटर का सफर तय करने के लिए 190 रुपये देने होंगे।

ड्राइवरलेस कार का दौर जापान के टोक्यो में शुरू हो चुका है। टोक्यो के बाद इसे अमेरिका में भी शुरू कर दिया जाएगा। जापान की राजधानी टोक्यो में ड्राइवरलेस कार की शुरुआत वहां की ZMP और हिनोमारू कोत्सु कंपनी ने की है। ZMP रोबोट बनाने वाली कंपनी है और यह हिनोमारु कोत्सु जापान में टैक्सी सर्विस का संचालन करती है।

शहर के जाम से मिलेगा छुटकारा, UBER जल्द ला सकता है उड़ने वाली कैब!

ड्राइवरलेस कार सेवा को रोबोकार मिनी वैन सर्विस का नाम दिया गया है और इसमें सफर करने के लिए इसे ऑनलाइन बुक करना होगा। कार में एप के जरिए ही दरवाजा खुलेगा और एप से ही पेमेंट होगा। जापान में 2020 में ओलंपिक का आयोजन होने जा रहा है। इसे देखते हुए ड्राइवरलेस कार काफी उपयोगी साबित हो सकती है।

जापान और अमेरिका के बाद गूगल व उबर भारत में भी बिना ड्राइवर वाली टैक्सी सर्विस शुरू करने की तैयारी में हैं। हालांकि, अभी तक भारत में इसका सफल परीक्षण नहीं हो पाया है। विशेषज्ञ मानते हैं कि शुरुआत में ड्राइवरलेस टैक्सी की लागत अधिक होगी, लेकिन इसकी संख्या बढ़ने पर इसकी लागत भी कम हो जाएगी। 
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:japan lauches driverless car 1 km ride will cost rs 190