ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News विदेशराफा की जंग खत्म; नेतन्याहू बोले- हमास नहीं अब नए दुश्मन की बारी, जारी रहेगा युद्ध

राफा की जंग खत्म; नेतन्याहू बोले- हमास नहीं अब नए दुश्मन की बारी, जारी रहेगा युद्ध

नेतन्याहू ने कहा कि गाजा के बाद राफा में भी हमास आतंकियों के खिलाफ हमारी लड़ाई लगभग समाप्त हो गई है। हालांकि युद्ध पूरी तरह से तक तक समाप्त नहीं होगा जब तक कि इस्लामी समूह गाजा पर नियंत्रण न कर ले।

राफा की जंग खत्म; नेतन्याहू बोले- हमास नहीं अब नए दुश्मन की बारी, जारी रहेगा युद्ध
Gaurav Kalaलाइव हिन्दुस्तान,तेल अवीवMon, 24 Jun 2024 07:06 AM
ऐप पर पढ़ें

पिछले साल सात अक्टूबर से इजरायल और फिलिस्तीनी आतंकियों के बीच भीषण लड़ाई चल रही है। युद्ध में हजारों लोगों की आहूति के बाद इजरायली पीएम बेंजामिन नेतन्याहू ने रविवार को कहा कि गाजा के बाद राफा में हमास आतंकियों के खिलाफ हमारी लड़ाई लगभग समाप्त हो गई है। हालांकि इजरायल के लिए युद्ध पूरी तरह से तक तक समाप्त नहीं होगा जब तक कि इस्लामी समूह गाजा पट्टी पर नियंत्रण नहीं कर लेता। राफा के बाद लेबनान में जल्द ही सैनिकों की तैनाती की जाएगी। नेतन्याहू की सेना अब लेबनान में हिजबुल्लाह आतंकियों के खिलाफ धावा बोलने वाली है। उन्होंने बताया कि हजारों इजरायलियों को लेबनान सीमा के आस-पास शहरों विस्थापित कर दिया गया है। इजरायल के लिए हिजबुल्लाह आतंकी अब नया दुश्मन है।

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने रविवार को चैनल 14 को दिए साक्षात्कार में कहा, "हमास के खिलाफ इजरायल की लड़ाई अब समाप्त होने वाली है। हालांकि इसका मतलब यह नहीं है कि युद्ध समाप्त होने वाला है, हां यह जरूर है कि गाजा के बाद हमने राफा में अपने उद्देश्यों की पूर्ति कर दी है।" नेतन्याहू ने आगे कहा, "राफा के बाद हम उत्तर में अपने सैनिकों को तैनात करेंगे। यहां हमारा उद्देश्य दुश्मनों से अपने लोगों की रक्षा करने को होगा, साथ ही विस्थापित हो चुके इजरायलियों को वापस घर लाने के लिए भी।"

नेतन्याहू ने कहा कि जब से गाजा में युद्ध शुरू हुआ है, लेबनान की सीमा के पास स्थित कई इज़रायली शहरों को लड़ाई के दौरान खाली करा लिया गया है। इजरायली पीएम का कहना है कि पिछले साल 7 अक्तूबर को हमास के खिलाफ जंग शुरू होने के बाद से उनकी सेना और हिजबुल्लाह आतंकवादियों के बीच भी लगभग प्रतिदिन गोलीबारी होती रही है। हिजबुल्लाह अब टेंशन देने लगा है और लड़ाई तीव्र होती जा रही है। इसलिए हमने अब राफा के बाद लेबनान में हिजबुल्लाह के खिलाफ लड़ाई तेज की जाएगी।

अपने बंधकों की रिहाई के लिए समझौते को तैयार
नेतन्याहू ने कहा कि वह ऐसे किसी समझौते पर सहमत नहीं होंगे, जिसमें गाजा में युद्ध समाप्त करने की बात हो लेकिन, कुछ समझौतों पर विचार इस शर्त पर किया जा सकता है ताकि उनके लोगों की वापसी सुनिश्चित की जा सके। उन्होंने कहा, "हमारा लक्ष्य अपहृत लोगों को वापस लौटाना और गाजा में हमास शासन को उखाड़ फेंकना है।"

हमास को खत्म नहीं किया जा सकता
संयुक्त राज्य अमेरिका के अधिकारियों ने हमास को पूरी तरह से नष्ट करने के नेतन्याहू के दावों पर संदेह जताया है। इजरायल के शीर्ष सेना प्रवक्ता रियर एडमिरल डैनियल हगारी ने कहा कि हमास को समाप्त नहीं किया जा सकता। हगारी ने कहा, "यह कहना कि हम हमास को ख़त्म कर देंगे, लोगों की आंखों में रेत फेंकने जैसा है।" उन्होंने कहा कि हमास एक विचारधारा है और "हम किसी विचारधारा को ख़त्म नहीं कर सकते"।

गाजा में नई सरकार का गठन
प्रधानमंत्री नेतन्याहू ने कहा, "हम गाजा में एक नागरिक प्रशासन बनाना चाहते हैं, यदि संभव हो तो स्थानीय फिलिस्तीनियों के साथ या बाहरी देशों के समर्थन से ऐसा करना चाहते है। हमारा उद्देश्य गाजा पट्टी में मानवीय आपूर्ति और नागरिक मामलों का प्रबंधन होने से है।" उन्होंने कहा कि गाजा में दो चीजें होनी चाहिए। पहला आईडीएफ का गाजा से धीरे-धीरे पलायन और दूसरा एक नागरिक प्रशासन की स्थापना।"

इस लड़ाई में कितने लोग मारे गए
इजरायल के आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, इजरायल पर हमास के अभूतपूर्व हमले के बाद से गाजा पट्टी आठ महीने से अधिक समय से युद्ध की चपेट में है। जिसके परिणामस्वरूप 1,194 इजरायली मारे गए, जिनमें अधिकतर नागरिक थे। उधर, हमास उग्रवादियों ने 251 लोगों को बंधक बना लिया था, जिनमें से 116 गाजा में ही रह गए, जिनमें से 41 के बारे में सेना का कहना है कि वे मर चुके हैं। वहीं, हमास द्वारा संचालित क्षेत्र के स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, गाजा पर इजरायल के सैन्य हमले में अब तक कम से कम 37,598 लोग मारे गए हैं, जिनमें अधिकतर नागरिक हैं।