ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News विदेशहमास ने कहां रखे हैं बंधक, इजरायल ने ढूंढ़ निकाला; अस्पताल तक जाती सुरंग का कनेक्शन समझिए

हमास ने कहां रखे हैं बंधक, इजरायल ने ढूंढ़ निकाला; अस्पताल तक जाती सुरंग का कनेक्शन समझिए

गाजा में इजरायल-हमास लड़ाई का ताजा केंद्र बिंदु अस्पताल बन गए हैं। हमास द्वारा संचालित स्वास्थ्य मंत्रालय ने कल कहा कि अस्पतालों में ईंधन की कमी के कारण कम से कम छह शिशुओं और नौ मरीजों की मौत हो गई।

हमास ने कहां रखे हैं बंधक, इजरायल ने ढूंढ़ निकाला; अस्पताल तक जाती सुरंग का कनेक्शन समझिए
Amit Kumarलाइव हिन्दुस्तान,गाजाTue, 14 Nov 2023 03:10 PM
ऐप पर पढ़ें

इजरायल के सुरक्षा बलों ने हमास द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली एक खुफिया सुरंग खोजने का दावा किया है। इजरायली सेना का कहना है कि यह सुरंग गाजा में एक अस्पताल तक जाती है। बता दें कि ये दावा ऐसे समय में किया गया है जब गाजा पट्टी से अस्पतालों मे दम तोड़ती जिंदगियों की हैरान कर देने वाली तस्वीरें सामने आ रही हैं। बताया जा रहा है कि गाजा के अस्पतालों में चिकित्सा प्रणाणी पूरी तरह से ठप्प हो गई है जिससे लोगों का इलाज नहीं हो रहा है। अब इजरायली सेना का दावा है कि हमास की सुरंगें अस्पताल तक जाती हैं। 

हमास अस्पतालों से काम कर रहा है?

इजरायली सेना के प्रवक्ता ने कहा कि सुरंग हमास के एक सदस्य के घर के बगल में है। यह सदस्य हमास के नौसैनिक अभियानों का प्रमुख है और इसने 7 अक्टूबर को इजरायल पर हमले का नेतृत्व किया था। रियर एडमिरल डेनियल हगारी ने कहा कि रान्तिसी अस्पताल केवल 200 गज (183 मीटर) दूर है। इजरायल उन आरोपों को साबित करने की कोशिश कर रहा है जिनमें कहा जा रहा है कि फिलिस्तीनी हमास समूह अस्पतालों से काम कर रहा है।

इजरायली सुरक्षा बलों (IDF) ने एक्स पर एक वीडियो शेयर किया है। इसमें कहा गया है, "इन सुरंगों के अंदर, हमास के आतंकवादी छिपते हैं, काम करते हैं और इजरायली बंधकों को उनकी इच्छा के विरुद्ध बंधक बनाकर रखते हैं।" उन्होंने कहा कि सुरंग में बिजली सौर पैनलों की मदद से पहुंचाई जाती है। यह (सुरंग) जमीनी स्तर से लगभग 20 मीटर नीचे बुलेटप्रूफ और विस्फोटक-प्रूफ दरवाजे तक जाती है। उन्होंने कहा, "यह इस बात का पुख्ता और स्पष्ट सबूत लगता है कि अस्पताल (सुरंग से) जुड़ा हुआ है।" इजरायली बलों ने कहा कि सुरंग को ढक दिया गया ताकि कोई इसे ढूंढ न सके। यह सुरंग अस्पताल एक स्कूल और संयुक्त राष्ट्र की इमारत के बगल में है।

'इसी जगह पर बंधकों को रखा'

इजरायली सेना ने वीडियो और तस्वीरें साझा कीं जिसमें उसने कहा कि गाजा में एक बच्चों के अस्पताल के तहखाने में हमास द्वारा इकट्ठे रखे गए हथियार पाए गए हैं। उन्होंने दावा किया कि ऐसी प्रतीत होता है कि इसी जगह पर बंधकों को रखा है। सैन्य प्रवक्ता रियर एडमिरल डैनियल हगारी ने कहा कि सैनिकों को रैनटिसी अस्पताल के तहखाने में हमास लड़ाकों द्वारा रखे गए हथगोले, आत्मघाती जैकेट और अन्य विस्फोटकों सहित हथियारों के एक शस्त्रागार के साथ एक कमांड सेंटर मिला है। यह कैंसर रोगियों के इलाज में विशेषज्ञता वाला एक बाल चिकित्सा अस्पताल है।

उन्होंने कहा, "हमास अस्पतालों का इस्तेमाल कर रहा है... लोग अस्पतालों से आरपीजी दाग रहे हैं। यह हमास है। दुनिया को समझना होगा कि इजराइल किसके खिलाफ लड़ रहा है।" गोलियों के निशान वाली एक बाइक की ओर इशारा करते हुए उन्होंने दावा किया कि बंधकों को गाजा सीमा पार से बाइक पर लाया गया था और इस तहखाने में बंधक बनाकर रखा गया था। महिलाओं के कपड़े, कुर्सी से बंधी रस्सियां, डायपर और तहखाने में एक दूध पिलाने की बोतल ने "उन क्षेत्रों के बारे में संदेह बढ़ा दिया जहां बंधकों को रखा गया था"। कमोड और वेंटिलेशन से युक्त एक अस्थायी शौचालय भी वहां पाया गया है। उन्होंने कहा, "हम देख सकते हैं कि शौचालय, शॉवर और छोटी रसोई जैसी बुनियादी सुविधाएं आतंकवादियों को उनकी जरूरतें मुहैया कराती हैं।" उन्होंने कहा, "हमास ने इस पूरे क्षेत्र को अपने नियंत्रण में ले लिया और इस अस्पताल से इजरायलियों के खिलाफ अपना युद्ध चलाया।"

गाजा में 11,000 से अधिक लोग मारे गए

इसके अलावा, सैनिकों को गोलियों के निशान वाली एक मोटरसाइकिल मिली, जिसके बारे में उन्होंने कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि इसका इस्तेमाल 7 अक्टूबर को अचानक हुए हमले के बाद बंधकों को गाजा में लाने के लिए किया गया था। 7 अक्टूबर को हमास के बंदूकधारियों ने दक्षिणी इजरायल में हमला किया था, जिसमें लगभग 1,200 लोगों की मौत हो गई थी और लगभग 240 बंदियों को पकड़ लिया गया था। जवाबी कार्रवाई में, इजरायल ने गाजा पट्टी पर ताबतोड़ बमबारी शुरू कर दी है और इसके बाद एक जमीनी कार्रवाई की है, जिसमें सैनिकों को इलाके में काफी अंदर तक घुसते देखा गया है। फिलिस्तीनी स्वास्थ्य अधिकारियों के अनुसार, गाजा में 11,000 से अधिक लोग मारे गए हैं।

सोमवार को, गाजा के मुख्य अस्पताल अल शिफा अस्पताल के गेट के बाहर इजरायली टैंक तैनात किए गए थे, जहां सैकड़ों मरीज अभी भी निकाले जाने का इंतजार कर रहे हैं। जैसे-जैसे आक्रमण आगे बढ़ा, इजरायल ने हमास पर कमांड सेंटरों और हथियारों को छिपाने के लिए अस्पतालों और अन्य नागरिक बुनियादी ढांचे का इस्तेमाल करने और नागरिकों और अस्पताल के मरीजों को मानव ढाल के रूप में इस्तेमाल करने का आरोप लगाया है। हमास और गाजा में अस्पताल अधिकारियों ने इस बात से इनकार किया है कि स्वास्थ्य सुविधाओं का इस तरह से उपयोग किया गया है। 

गाजा में इजरायल-हमास लड़ाई का ताजा केंद्र बिंदु अस्पताल बन गए हैं। हमास द्वारा संचालित स्वास्थ्य मंत्रालय ने कल कहा कि अस्पतालों में ईंधन की कमी के कारण कम से कम छह शिशुओं और नौ मरीजों की मौत हो गई है और उत्तरी गाजा के सभी अस्पताल अब "ठप" हैं। इसमें अल-शिफा अस्पताल भी शामिल है, जो पट्टी पट्टी में सबसे बड़ा अस्पताल है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें