ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News विदेशअब राफा में मंडरा रही मौत; शरणार्थी कैंपों पर इजरायल की एयर स्ट्राइक, कम से कम 35 मरे

अब राफा में मंडरा रही मौत; शरणार्थी कैंपों पर इजरायल की एयर स्ट्राइक, कम से कम 35 मरे

Israel air Strike: गाजा के बाद अब राफा शहर में मौत मंडरा रही है। रविवार को इजरायली बलों ने हमास आतंकियों के इनपुट पर यहां शरणार्थी शिविरों पर हवाई हमला कर दिया। इसमें कम से कम 35 लोग मारे गए।

अब राफा में मंडरा रही मौत; शरणार्थी कैंपों पर इजरायल की एयर स्ट्राइक, कम से कम 35 मरे
israel air strike in rafah
Gaurav Kalaलाइव हिन्दुस्तान,राफाMon, 27 May 2024 07:31 AM
ऐप पर पढ़ें

Israel air strike in rafah: गाजा के बाद अब इजरायली सेना ने राफा शहर में बड़े पैमाने पर हमले शुरू कर दिए हैं। रविवार को इजरायली बलों ने राफा में शरणार्थी शिविरों पर हवाई हमले किए। इसमें कम से कम 35 लोग मारे गए हैं और बड़ी संख्या में लोग गंभीर रुप से घायल हैं। मौत का आंकड़ा अभी और बढ़ सकता है। आईडीएफ ने ऑपरेशन के बारे में बताया कि खुफिया सूचना के आधार पर हमारी टीम ने हमास के शिविरों पर हमला किया, जिसमें वेस्ट बैंक का हमास कमांडर समेत कई आतंकी मारे गए हैं। उधर, हमास ने दावा किया है कि इजरायली सेना ने उन स्थानों को निशाना बनाया जहां 15 दिन पहले आम लोगों ने हमलों से बचने के लिए शरण ली थी।

हमास के दावों से उलट आईडीएफ का कहना है कि उसने राफा में अपने पहले बड़े ऑपरेशन के तहत हमास के पश्चिमी तट प्रभाग के प्रमुख यासीन रबिया और पश्चिमी तट प्रभाग के कमांडर खालिद नागर को निशाना बनाया।

दक्षिण गाजा के स्थानीय अधिकारियों ने बताया कि गाजा पट्टी से अपनी जान बचाकर राफा भागे विस्थापितों पर इजरायली बलों ने हवाई हमले किए। इस हमले में कम से कम 35 लोग मारे गए हैं। हमास ने इजरायली हमले को नरसंहार करार दिया है। हमास ने हमले के बाद एक बयान में कहा कि इजरायली बलों का हमला इतना क्रूर था कि उन्होंने विस्थापितों के लिए बनाए गए टैंट और राहत शिविरों पर बम बरसाए। नजारा बेहद भयावह था- टैंट और उसके अंदर मृत पड़े शव आग की बरसात में गल और जल रहे थे। हमास ने इजरायल पर निर्दोषों की हत्या का इल्जाम लगाया है।

निर्दोषों की जान गई
एक तरफ इजरायली बलों का दावा है कि उन्होंने हमास के आतंकी कैंप पर निशाना बनाया और उसे नष्ट किया। वहीं, फिलिस्तीनी स्वास्थ्य और नागरिक आपातकालीन सेवा के अधिकारियों का कहना है कि हमले पश्चिमी राफा के उन इलाकों में किए गए, जहां इजरायली बलों से बचकर आम लोगों ने टैंट और शिविरों में 15 दिन पहले शरण ली थी।

रेड क्रॉस की अंतरराष्ट्रीय समिति द्वारा संचालित राफा में एक फील्ड अस्पताल में बड़ी संख्या में घायलों को भर्ती किया गया है। फिलहाल मौत का सटीक आंकड़ा उपलब्ध नहीं हो पाया है लेकिन, घायलों की गंभीर हालत को देखते हुए कहा जा रहा है कि मरने वालों की संख्या अभी और बढ़ सकती है। 

अमेरिका और इजरायल का नरसंहार- हमास
हमास के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इस हमले के लिए इजरायल और अमेरिका दोनों को दोषी ठहराते हुए नरसंहार का आरोप लगाया है। कहा है कि अमेरिकी हथियारों की मदद से इजरायली सेना अब राफा में नरसंहार कर रही है।  समाचार एजेंसी रॉयटर्स ने एक अस्पताल कर्मी के हवाले से कहा, "हवाई हमलों ने तंबू जला दिए। नजारा इतना भयावह था कि तंबू पिघल रहे थे और लोगों के शरीर भी पिघल रहे थे।"