Iran says may reverse nuclear programme to pre deal status - ईरान ने दी चेतावनी, अपने परमाणु कार्यक्रम को चार साल पहले की स्थिति में ले जाएंगे DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ईरान ने दी चेतावनी, अपने परमाणु कार्यक्रम को चार साल पहले की स्थिति में ले जाएंगे

iran  reuters photo

ईरान की परमाणु ऊर्जा एजेंसी ने सोमवार को कहा कि वह अपने परमाणु कार्यक्रम को उस स्थिति तक ले जा सकता है, जहां वह विश्व शक्तियों के साथ 2015 में हुए ऐतिहासिक समझौते से पहले था। सरकारी संवाद समिति इरना के अनुसार एजेंसी के प्रवक्ता बहरूज कमलवंडी ने कहा, ''अगर यूरोपवासी और अमेरिकी अपने कर्तव्यों को नहीं निभाना चाहते हैं तो हम अपनी प्रतिबद्धताओं में कटौती करेंगे और चार साल पहले की स्थिति में ले जाएंगे।"

उन्होंने कहा, ''यह कार्रवाई जिद में आकर नहीं की जा रही है। यह कूटनीति को मौका देने के लिये है ताकि दूसरे पक्ष को सद्बुद्धि आए और अपने कर्तव्यों को निभाए।" विश्व शक्तियों के साथ साल 2015 में हुए समझौते के तहत ईरान को आर्थिक लाभ और प्रतिबंधों से राहत देने का वादा किया गया था, लेकिन अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मई 2018 में समझौते से अमेरिका को अलग कर लिया और इस्लामिक गणराज्य के खिलाफ कड़े दंडात्मक कदम फिर से उठाए।

ओबामा को चिढ़ाने के लिए ट्रम्प ने ईरान समझौते से अमेरिका को अलग किया: ब्रिटिश राजदूत

प्रतिबंध हटाए अमेरिका, बातचीत के लिए तैयार है ईरान : रूहानी
वहीं दूसरी ओर ईरान ने कहा है कि यदि अमेरिका उस पर लगे प्रतिबंधों को हटाता है तो वह बातचीत के लिए पूरी तरह से तैयार है। समाचार एजेंसी मेहर के मुताबिक ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने रविवार को कहा, “हम हमेशा से बातचीत के लिए तैयार हैं। मैं आपको बताना चाहता हूं कि आप हमें धमकाना बंद करें और बुद्धिमता दिखाते हुए प्रतिबंधों को हटाएं। हम बातचीत के लिए तैयार हैं।”

इससे पहले जर्मनी, फ्रांस और ब्रिटेन ने अंतरराष्ट्रीय परमाणु समझौते के तहत संयुक्त कार्रवाई योजना (जेसीपीओए) के सभी सदस्यों की बैठक बुलाने का आह्वान किया। इन देशों के मुताबिक अमेरिका के लगातार ईरान पर प्रतिबंध लगाने और ईरान के इस समझौते के प्रावधानों को तोड़ने के कारण इस पर खतरा मंडरा रहा है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Iran says may reverse nuclear programme to pre deal status