DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ईरान परमाणु करारः ट्रंप के फैसले का नेतन्याहू ने किया स्वागत, बताया साहसिक फैसला

Donald Trump and netanyahu

इस्राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने ईरान के साथ परमाणु करार से हटने के अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के  साहसिक फैसले का यह कहते हुए समर्थन किया है कि इस संधि से ईरान की आक्रामकता घटी नहीं बल्कि नाटकीय रुप से बढ़ी ही थी। 

ट्रंप ने एलान किया है कि वह इस 'सड़े-गले' ईरान परमाणु करार से अमेरिका को हटा रहे हैं। ओबामा प्रशासन ने इस करार पर 2015 में हस्ताक्षर किया था। ट्रंप की घोषणा के तुरंत बाद नेतन्याहू ने टेलीविजन पर प्रसारित अपने संबोधन में कहा, ''इस्राइल तेहरान के आतंकी शासन के साथ विनाशकारी परमाणु करार को खारिज करने के राष्ट्रपति ट्रंप के साहसिक फैसले का पूर्ण समर्थन करता है।

इस्राइल ने शुरु से ही इस परमाणु करार का विरोध किया है क्योंकि हमने कहा कि बम बनाने की राह पर ईरान को रोकने के बजाय इस करार ने परमाणु बमों का पूरा भंडार खड़ा करने का मार्ग प्रशस्त किया और वह भी महज कुछ सालों में। नेतान्याहू ने इस्लामिक गणतंत्र (ईरान) पर आर्थिक प्रतिबंधों का भी समर्थन किया। 

जानिए, ईरान पर अमेरिकी प्रतिबंधों का भारत पर होगा कितना आसान

ट्रंप के ईरान परमाणु करार से अलग होने की घोषणा पर कोई खुश तो नाखुश

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Iran nuclear deal Netanyahu offered welcome to Trump