ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News विदेशभारतीय ने रची थी खालिस्तानी आतंकी गुरपतवंत पन्नू की हत्या की साजिश, अमेरिका ने मढ़े नए आरोप

भारतीय ने रची थी खालिस्तानी आतंकी गुरपतवंत पन्नू की हत्या की साजिश, अमेरिका ने मढ़े नए आरोप

अमेरिका ने एक भारतीय नागरिक पर सिख फॉर जस्टिस के संस्थापक गुरपतवंत सिंह पन्नू की हत्या की साजिश रचने का आरोप लगाया है। बीते दिनों अमेरिका ने दावा किया था पन्नू की हत्या की साजिश रची जा रही थी।

भारतीय ने रची थी खालिस्तानी आतंकी गुरपतवंत पन्नू की हत्या की साजिश, अमेरिका ने मढ़े नए आरोप
Himanshu Tiwariलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 29 Nov 2023 11:01 PM
ऐप पर पढ़ें

खालिस्तानी नेता और आतंकी गुरपतवंत सिंह पन्नू की हत्या की साजिश को लेकर संयुक्त राज्य अमेरिका ने नया दावा किया है। अमेरिका ने एक भारतीय नागरिक पर सिख फॉर जस्टिस के संस्थापक गुरपतवंत सिंह पन्नू की हत्या की साजिश रचने का आरोप लगाया है। अमेरिकी अटॉर्नी के कार्यालय ने बुधवार को कहा कि निखिल गुप्ता नाम के एक भारतीय ने पन्नू की हत्या की साजिश रची थी। गुप्ता को चेक रिपब्लिक के अधिकारियों ने जून में गिरफ्तार किया था अब उसके प्रत्यर्पण का इंतजार किया जा रहा है।

मैनहट्टन में शीर्ष संघीय वकील डेमियन विलियम्स ने एक बयान में कहा, "सार्वजनिक रूप से सिखों के लिए एक संप्रभु राज्य की वकालत करने वाले एक अमेरिकी नागरिक (पन्नू) की हत्या की साजिश भारत से रची जा रही थी।" बता दें अमेरिका ने पहले भी ऐसा दावा किया था कि एक सिख अलगाववादी को मारने की साजिश की जा रही थी, जिसे अमेरिका ने विफल कर दिया था। अमेरिकी न्याय विभाग के सार्वजनिक मामलों के कार्यालय द्वारा एक प्रेस रिलीज में कहा कि निखिल गुप्ता कॉन्ट्रैक्ट किलर है। विभाग ने गुप्ता पर पैसे के बदले हत्या की साजिश रचने का आरोप लगाया।

अमेरिका के पिछले दावे पर भारत का रुख

इस मामले में अमेरिका के पिछले दावों को लेकर भारत ने जरूरी कदम उठाए हैं। भारत ने अमेरिकी सरकार द्वारा उठाई गई सुरक्षा चिंताओं पर गौर करने के लिए एक उच्च स्तरीय जांच समिति का गठन किया है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने बुधवार को यह जानकारी दी। अमेरिका ने हाल ही में दावा किया था कि उसने सबसे सीनियर लेवल पर, भारत के साथ अपनी सुरक्षा चिंताएं साझा की हैं। इनमें "संगठित अपराधियों, बंदूकों का कारोबार करने वालों और आतंकवादियों के बीच सांठगांठ" पर इनपुट साझा किया गया। 

बता दें कि खालिस्तानी गुरपतवंत सिंह पन्नू एक अमेरिकी-कनाडाई नागरिक है। वह सिख फॉर जस्टिस का जनरल काउंसिल और भारत में एक नामित आतंकवादी है। रिपोर्ट में कहा गया कि अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने सितंबर में नई दिल्ली में जी20 शिखर सम्मेलन में एक बैठक के दौरान पीएम मोदी के साथ यह मामला उठाया था।

पन्नू को मारने की कथित साजिश के बारे में मीडिया रिपोर्ट कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो द्वारा सितंबर में आरोप लगाने के लगभग दो महीने बाद आई थी। ट्रूडो ने आरोप लगाया था कि खालिस्तानी नेता हरदीप सिंह निज्जर की हत्या के लिए भारत सरकार के एजेंट जिम्मेदार हो सकते हैं। भारत ने आरोपों का पुरजोर खंडन करते हुए उन्हें बेतुका बताया। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें