DA Image
3 मार्च, 2021|10:57|IST

अगली स्टोरी

सिक्किम में भारत-चीन सैनिकों में झड़प की खबरों पर जानिए क्या बोला ड्रैगन

bipartisan resolution introduced in us senate china on aggression against india

पिछले साल जून में पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प के दौरान मारे गए अपने सैनिकों की संख्या छिपाने वाले चीन ने अब सिक्किम में हुई झड़प को भी ढंकने की कोशिश की है। भारतीय सेना की ओर से मामूली झड़प की पुष्टि के बावजूद चीन ने इस तरह की घटना से इनकार किया है। चीन सरकार के मुखपत्र ग्लोबल टाइम्स ने सूत्रों के हवाले से यह दावा किया है।

ग्लोबल टाइम्स की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि सोमवार को भारतीय मीडिया ने चीनी और भारतीय सैनिकों में तीन दिन पहले झड़प की बात कही है, जिसमें दोनों तरफ के सैनिक घायल हुए हैं, ग्लोबल टाइम्स को एक सूत्र ने बताया है कि ये रिपोर्ट्स फेक हैं। पीपल्स लिब्रेशन आर्मी (PLA) के फ्रंट लाइन पट्रोल लॉग्स में ऐसा कुछ दर्ज नहीं है। 

यह भी पढ़ें: सिक्किम में चीनी सैनिकों संग हुई झड़प पर इंडियन आर्मी ने क्या कहा?

ग्लोबल टाइम्स ने कहा है कि दोनों देशों के अग्रिम सैनिकों के बीच टकराव हो सकता है, लेकिन यदि ऐसा टकराव होता है जिसमें सैनिक हताहत हुए हों, तो यह असंभव है कि रिकॉर्ड में इसे दर्ज ना किया जाए। भारतीय सेना ने चीनी सेना के साथ झड़प की पुष्टि की है, हालांकि, उसने कहा कि यह एक मामली झड़प थी और इस मसले को स्थानीय कमांडरों के स्तर पर सुलझा लिया गया है। 

इससे पहले सूत्रों ने कहा कि पिछले सप्ताह नॉर्थ सिक्किम के ना कूला में चीनी सेना ने भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ की कोशिश की थी, मगर भारतीय सेना ने उनकी कोशिशों को नाकाम कर दिया। हालांकि, इस दौरान दोनों में झड़प हुई। बताया जा रहा है कि इस झड़प में चीन के कुछ सैनिक घायल हो गए। हालांकि, भारतीय जवानों नॉर्थ सिक्किम में प्रतिकूल मौसम में भी चीनी सेना को पीछे धकेलने में कामयाब रहे। झड़प स्थल पर तनाव बना हुआ है, मगर अभी स्थिति स्थिर है। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:indian chinese troops clash in sikkim what china says on incident