DA Image
18 दिसंबर, 2020|1:50|IST

अगली स्टोरी

महीनों तनाव के बाद पटरी पर लौट रहा नेपाल संग रिश्ता, विदेश सचिव हर्ष वर्धन श्रृंगला की केपी ओली से बात

india nepal

भारतीय विदेश सचिव हर्ष वर्धन श्रृंगला ने नेपाली शीर्ष नेतृत्व से गुरुवार को मुलाकात की और दोनों देशों ने परस्पर सहयोग बढ़ाने की दिशा में काम करने पर सहमति जताई। इस दौरान श्रृंगला ने अपने नेपाली समकक्ष के साथ विभिन्न द्विपक्षीय मुद्दों पर बातचीत की। सीमा रेखा को लेकर विवाद को लेकर दोनों देशों के संबंधों में तनाव आने के बीच श्रृंगला की पहली नेपाल यात्रा पर गर्मजोशी से स्वागत किया गया। वह विदेश सचिव भरत राज पौडयाल के निमंत्रण पर आए हैं।

प्रधानमंत्री के प्रेस सलाहकार सूर्य थापा के अनुसार, श्रृंगला ने प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली से उनके आधिकारिक निवास पर शिष्टाचार मुलाकात की। श्रृंगला ने नेपाल के विदेश मंत्री प्रदीप कुमार ग्यावली से भी मुलाकात की और कोविड-19 महामारी को रोकने में मदद के लिए भारत की सहायता के तहत एंटी-वायरस दवाई रेमेडिसविर की 2,000 से अधिक शीशियां उन्हें सौंपी। इससे पहले उन्होंने अपने नेपाली समकक्ष से मुलाकात की।

काठमांडू में भारतीय दूतावास ने ट्वीट कर कहा, ''विदेश सचिव हर्ष वर्धन श्रृंगला और भरत राज पौडयाल के बीच सार्थक बातचीत हुई। बैठक में उन्होंने द्विपक्षीय सहयोग की समीक्षा की और परस्पर हितों से जुड़े मुद्दों पर चर्चा की।'' दूतावास ने एक अन्य ट्वीट में कहा, ''दोनों पक्षों ने विभिन्न द्विपक्षीय परियोजनाओं और पहल पर हुई प्रगति की सराहना की। आपसी सहयोग को बढ़ाने की दिशा में काम करने पर सहमति जताई गई।''

उन्होंने संवाददाताओं से बातचीत करते हुए कहा, ''हमने काफी सार्थक और उपयोगी बातचीत की। द्विपक्षीय सहयोग के मुद्दों सहित कई सारे मुद्दों पर हमने चर्चा की और यह हमारे सहयोग के बहुआयामी और व्यापक स्वरूप को प्रदर्शित करता है। हम दोनों सहयोग के कुछ क्षेत्रों को आगे बढ़ाने, के लिए विभिन्न कदमों पर सहमत हुए...। नेपाली विदेश मंत्रालय ने ट्वीट कर कहा कि दोनों विदेश सचिवों ने द्विपक्षीय संबंधों से जुड़े विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की।

श्रृंगला ने स्थानीय संवाददाताओं से कहा, ''मैं यहां पहले भी आना चाहता था लेकिन कोविड-19 के चलते नहीं आ सका था। यहां आकर मैं बहुत खुश हूं। मैं काठमांडू पहले भी आया हूं, हालांकि विदेश सचिव के तौर पर यह मेरी पहली नेपाल यात्रा है। हमारे सबंध बहुत मजबूत हैं। हमारा प्रयास इस रिश्ते को और प्रगाढ़ बनाने का होगा।'' 

उन्होंने कहा, ''मैं नेपाल की सरकार और विदेश सचिव को गर्मजोशी से किए गए इस स्वागत के लिए धन्यवाद देना चाहता हूं। हम महत्वपूर्ण मुद्दों पर बैठक करने वाले हैं।'' नेपाली विदेश मंत्रालय ने इस सप्ताह एक वक्तव्य जारी कर कहा था कि यह दौरा दोनों पड़ोसी देशों के बीच जारी उच्च स्तरीय बातचीत का एक हिस्सा है।

शुक्रवार को वह काठमांडू में भारत-नेपाल संबंधों पर एक व्याख्यान देंगे और गोरखा में भारत की सहायता से तैयार हुए तीन स्कूलों का निरीक्षण करेंगे। शुक्रवार को यात्रा के समापन से पहले श्रृंगला, नेपाली सरकार को कोविड-19 से मुकाबले के लिए सहायता सामग्री सौंपेंगे। वर्ष 2015 में आए भूकंप के केंद्र गोरखा जिले में पचास हजार घरों का निर्माण कराने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आश्वासन दिया था जिनमें से चालीस हजार घरों का निर्माण पूरा हो चुका है। श्रृंगला, तिब्बत सीमा पर स्थित मनंग जिले में एक बौद्ध मठ का उद्घाटन भी करेंगे जिसका पुनर्निर्माण भारत की सहायता से किया गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:India Nepal agree to advance ties as Foreign Secretary meets Nepalese top leadership