Saturday, January 22, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ विदेशUS में लोकतंत्र पर चर्चा में शामिल हो सकते हैं PM मोदी, चीन को नहीं मिला न्योता

US में लोकतंत्र पर चर्चा में शामिल हो सकते हैं PM मोदी, चीन को नहीं मिला न्योता

एएनआई,नई दिल्लीGaurav Kala
Fri, 26 Nov 2021 07:12 PM
US में लोकतंत्र पर चर्चा में शामिल हो सकते हैं PM मोदी, चीन को नहीं मिला न्योता

इस खबर को सुनें

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने 'समिट फॉर डेमोक्रेसी' के लिए भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निमंत्रण भेजा है। सूत्रों के मुताबिक पीएम मोदी इस कार्यक्रम में वर्चुअली भाग लेंगे। वहीं, चीन को इस बैठक में निमंत्रण नहीं भेजा गया। इसके उलट ताइवान, पाकिस्तान समेत 110 देशों को इस बैठक में हिस्सा लेने का निमंत्रण मिला है। चीन इस बैठक का न्योता न मिलने से नाराज है। 

आगामी 10 दिसंबर को पीएम नरेंद्र मोदी अमेरिका द्वारा आयोजित 'समिट फॉर डेमोक्रेसी' में हिस्सा ले सकते हैं। भारतीय अधिकारियों ने दावा किया है कि व्हाइट हाउस की तरफ से पीएम मोदी को 9 और 10 दिसंबर के बीच 'समिट फॉर डेमोक्रेसी' में हिस्सा लेने के लिए निमंत्रण मिला है। इस बैठक में करीब 110 देश हिस्सा ले रहे हैं। ये वे देश हैं जहां लोकतांत्रित सरकारें शासन कर रही हैं।

सूत्रों के मुताबिक, अफगानिस्तान और म्यामांर को लेकर 'समिट फॉर डेमोक्रेसी' में अहम चर्चा हो सकती है। दोनों देशों में हाल ही में लोकतांत्रिक सरकारों को उखाड़ कर सत्ता हासिल की गई है। इसके अलावा व्हाइट हाउस ने तीन प्रमुख विषयों का बैठक के लिए जिक्र किया है जिसमें 'अधिनायकवाद के खिलाफ बचाव', 'भ्रष्टाचार के खिलाफ जंग' और 'मानवाधिकारों के लिए सम्मान बढ़ाना' शामिल है। 

निमंत्रण न मिलने से नाराज चीन
अमेरिकी मीडिया के मुताबिक, 'समिट फॉर डेमोक्रेसी' में 110 देशों को आमंत्रण दिया गया है। जिसमें दक्षिण और मध्य एशियाई क्षेत्र के चार देश भारत, मालदीव, नेपाल और पाकिस्तान भी शामिल हैं। हालांकि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि श्रीलंका, बांग्लादेश और भूटान देशों को भी आमंत्रण भेजा गया है या नहीं। उधर, इस बैठक में चीन को निमंत्रण नहीं मिला है। इससे उलट ताइवान को बैठक का आमंत्रण भेजा गया है। ताइवान के साथ तनाव को लेकर पहले से गंभीर चीन इस बात से खासा नाराज है कि अमेरिका ने चीन जैसे समृद्ध और लोकतांत्रिक राष्ट्र के बजाय ताइवान को तवज्जो दी है। 

6 दिसंबर को पुतिन संग पीएम की बैठक
आगामी 6 दिसंबर को रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन भारत पहुंच रहे हैं। रूस और भारत के बीच हर वर्ष शिखर वार्ता होती है। इस दौरान दोनों देश आपसी संबंधों की समीक्षा भी करते हैं। हालांकि पिछले वर्ष कोरोना महामारी के चलते ये बैठक नहीं हो पाई थी। 

epaper

संबंधित खबरें