ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News विदेशहम उनके जैसा इलेक्शन क्यों नहीं करा सकते? पाकिस्तानी संसद में गूंजा भारत का लोकसभा चुनाव

हम उनके जैसा इलेक्शन क्यों नहीं करा सकते? पाकिस्तानी संसद में गूंजा भारत का लोकसभा चुनाव

पाकिस्तानी संसद (सीनेट) में बोलते हुए पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के नेता फराज ने कहा कि भारत में किसी ने भी यह सवाल नहीं उठाया कि क्या लोकसभा चुनावों में धांधली हुई थी।

हम उनके जैसा इलेक्शन क्यों नहीं करा सकते? पाकिस्तानी संसद में गूंजा भारत का लोकसभा चुनाव
in pakistan senate leader shibli faraz calls india enemy but praises fair lok sabha elections
Amit Kumarलाइव हिन्दुस्तान,इस्लामाबादThu, 13 Jun 2024 05:08 PM
ऐप पर पढ़ें

पड़ोसी देश पाकिस्तान भी भारत में हुए सफल और निष्पक्ष लोकसभा चुनाव के मुरीद हो गया है। वहां के विपक्षी नेता अपनी ही सरकार पर निशाना साधते हुए भारत का उदाहरण दे रहे हैं। पाकिस्तान में विपक्ष के नेता सैयद शिबली फराज ने हाल ही में संपन्न आम चुनावों को स्वतंत्र और निष्पक्ष तरीके से आयोजित करने के लिए भारत की जमकर तारीफ की। इसके साथ ही उन्होंने अपने देश में भी इसी तरह की प्रक्रिया आयोजित करने की इच्छा व्यक्त की है।

पाकिस्तानी संसद (सीनेट) में बोलते हुए पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के नेता फराज ने कहा कि भारत में किसी ने भी यह सवाल नहीं उठाया कि क्या लोकसभा चुनावों में धांधली हुई थी। सैयद शिबली फराज ने कहा, "मैं अपने दुश्मन देश का उदाहरण नहीं देना चाहता, अभी चुनाव हुए हैं वहां... 80 करोड़ से ज्यादा लोगों ने वोट किया है.. कितने हजारों मतदान केंद्र बनाए गए.. एक जगह पर एक आदमी तक के लिए मतदान केंद्र बना दिए उन लोगों ने। एक महीने से ज्यादा समय तक चुनाव हुआ, ईवीएम से चुनाव कराए गए।" फराज ने कहा दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र होने के बावजूद, भारत ने धोखाधड़ी के आरोपों के बिना अपने यहां विशाल चुनाव सफलतापूर्वक करा लिया।

इमरान खान की पार्टी के नेता ने कहा, "इस दौरान क्या एक भी आवाज उठी कि चुनाव में धांधली हुई है। हम भी यही चाहते हैं। हम नहीं चाहते कि ये देश इसी बात में फंसकर रह जाए कि ये चुनाव जीता या वो जीता.. न जीतने वाला मानता है न हारने वाला। इसने हमारे राजनीतिक सिस्टम को बिल्कुल खोखला कर दिया है। हम भी अपने चुनाव स्वतंत्र और निष्पक्ष तरीके से क्यों नहीं करा सकते हैं?" 

भारत में 543 सीटों के लिए लोकसभा चुनाव सात चरणों में हुए थे, जिनकी शुरुआत 19 अप्रैल से हुई थी। आखिरी चरण 1 जून को हुआ था और नतीजे 4 जून को घोषित किए गए थे। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) ने केंद्र में सरकार बनाई है, जिसमें नरेंद्र मोदी लगातार तीसरी बार प्रधानमंत्री बने हैं।

यह एक उल्लेखनीय अवसर था जब पाकिस्तान से भारत को चुनाव संचालन के लिए प्रशंसा मिली। एक सप्ताह पहले ही पाकिस्तानी राजदूत हुसैन हक्कानी ने भी भारतीय चुनावों और उसकी लोकतांत्रिक प्रणाली की प्रशंसा की थी। उन्होंने कहा, “भारत के लोकतंत्र की विशालता से प्रभावित हुए बिना रहना मुश्किल है। 44 दिन की चुनावी प्रक्रिया, 900 मिलियन योग्य मतदाता, 640 मिलियन मतपत्र (जिनमें से आधे महिलाओं द्वारा डाले गए), 67% मतदान, 1.1 मिलियन मतदान केंद्र, 5.5 मिलियन इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनें!”